सोमवार, 20 मई 2024 | 02:35 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | खेल | वर्ल्ड कप फाइनल में हार के लिए कौन जिम्मेदार, 20 साल बाद भी ऑस्ट्रेलिया से पार नहीं पा सका भारत

वर्ल्ड कप फाइनल में हार के लिए कौन जिम्मेदार, 20 साल बाद भी ऑस्ट्रेलिया से पार नहीं पा सका भारत


भारतीय क्रिकेट फैंस का टिल टूट गया। ऑस्ट्रेलिया ने भारत को वर्ल्ड कप 2023 फाइनल में 6 विकेट से हराकर खिताब अपने नाम कर लिया। कंगारू टीम ने छठी बार वनडे वर्ल्ड कप जीता है। भारत एक बार फिर कंगारुओं से पार नहीं पार सका। भारतीय फैंस को उम्मीद थी कि रोहित ब्रिगेड 20 साल बाद ऑस्ट्रेलिया से वर्ल्ड कप 2003 फाइनल की हार का बदला लेगी लेकिन ऐसा नहीं हो सका। बता दें कि भारतीय टीम ने अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में 241 रन का लक्ष्य रखा, जिसे ऑस्ट्रेलिया ने 43 ओवर में 4 विकेट गंवाकर आसानी से हासिल कर लिया। ट्रेविस हेड ने शतक और मार्नस लाबुशन ने अर्धशतक जड़ा।
लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने अच्छा आगा नहीं किया। ऑस्ट्रेलिया को पारी की शुरुआत में ही बड़ा झटका लगा। मोहम्मद शमी ने दूसरे ओवर में डेविड वॉर्नर (7) को अपना शिकार बनाया। जसप्रीत बुमराह ने पांचवें ओवर में मिशेल मार्श (15) को पवेलियन भेजा। बुमराह ने सातवें ओवर में धाकड़ बल्लेबाज स्टीव स्मिथ को आउट किया। स्मिथ 4 रन ही बना सके। ऑस्ट्रेलिया के 47 रन पर तीन विकेट गिरने के बाद ओपनर हेड और लाबुशेन ने दमदार अंदाज में मोर्चा संभाला। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 192 रन की साझेदारी कर भारत से मैच छीन लिया। हेड 43वें ओवर की पांचवीं गेंद पर मोहम्मद सिराज का शिकार बने। उन्होंने 120 गेंदों में 15 चौकों और 4 छक्कों की मदद से 137 रन बनाए। हेड के जाने के बाद ग्लेन मैक्सवेल (नाबाद 2) ने अगली गेंद पर डबल लेकर ऑस्ट्रेलिया को जीत दिलाई। लाबुशेन ने 110 गेंदों में 58 रन की नाबाद खेली। उन्होंने चार चौके लगाए।
इससे पहले, भारतीय टीम निर्धारित 50 ओवर में 240 रन पर ऑलआउट हुई। टॉस गंवाकर पहले बैटिंग करने उतरी भारतीय टीम ने सधी हुई शुरुआत की। कप्तान रोहित शर्मा और शुभमन गिल ने पहले विकेट के लिए 30 रन जोड़े। गिल 7 गेंदों में 4 रन ही बना सके। रोहित की तूफानी बल्लेबाजी की बदौलत ने भारत ने 7वें ओवर में 50 रन पूरे किए। हालांकि, कप्तान अर्धशतक कंप्लीट नहीं कर सके। उन्होंने 31 गेंदों में 4 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 47 रन बनाए। रोहित ने कोहली के साथ दूसरे विकेट के लिए 46 रन की पार्टनरशिप की। श्रेयस अय्यर (4) का बल्ला नहीं चला।
इसके बाद, कोहली ने केएल राहुल के संग चौथे विकेट के लिए 67 रन की साझेदारी की। कोहली ने 63 गेंदों में चार चौकों के जरिए 54 रन बनाए और बोल्ड हो गए। राहुल ने बेहद धीमी पारी खेली। उन्होंने107 गेंदों में 66 रन बटोरे। उन्होंने सिर्फ एक चौका लगाया। रविंद्र जडेजा (9), मोहम्मद शमी (6) और जसप्रीत बुमराह (1) कुछ खास नहीं कर सके। भारत ने 178 के स्कोर पर पांच विकेट गंवा दिए थे। सूर्यकुमार यादव ने 28 गेंदों में 18 रन का योगदान दिया। कुलदीप यादव 10 रन बनाकर रनआउट हुए। मोहम्मद सिराज 9 रन जुटाकर नाबाद रहे। ऑस्ट्रेलिया के लिए मिशेल स्टार्क ने तीन जबकि जोश हेजलवुड और पैट कमिंस ने दो-दो विकेट चटकाए। ग्लेन मैक्सवेल और एडम जम्पा ने एक-एक शिकार किया।

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: