सोमवार, 22 जुलाई 2019 | 09:51 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
चांद पर चला चंद्रयान-2, ISRO ने फिर रच दिया इतिहास,देशभर में खुशी की लहर          81 साल की उम्र में शीला दीक्षित का निघन          शीला दीक्षित 15 साल तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं थी          दिल्ली की सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का दिल्ली में निधन          इसरो ने किया ऐलान, अब 22 जुलाई को लॉन्च होगा चंद्रयान-2          कुलभूषण जाधव मामले पर पीएम मोदी ने जताई खुशी कहा- ये सच्चाई और न्याय की जीत है          भारतीय वायुसेना के लिए गेम चेंजर साबित होगी राफेल-सुखोई की जोड़ी,एयर मार्शल भदौरिया          कुलभूषण जाधव केस, ICJ में भारत की बड़ी जीत, फांसी की सजा पर रोक, पाकिस्तान को सजा की समीक्षा का आदेश          गृह मंत्री अमित शाह का बड़ा बयान, कहा- सभी घुसपैठियों और अवैध प्रवासियों को करेंगे देश से बाहर          पीएम नरेंद्र मोदी सितंबर में अमेरिका जाएंगे, जहां भारतीय समुदाय के लोगों से उनकी मुलाकात हो सकती है। इस दौरान दुनिया के कई अन्‍य देशों के नेताओं से भी मुलाकात की संभावना है          भाजपा को 2016-18 के बीच 900 करोड़ रू से ज्यादा चंदा मिला, एडीआर की रिपोर्ट में आया सामने          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार          बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव ने किया तेज सेना का गठन           भ्रष्ट अफसरों को जबरन वीआरएस दिया जाए, ऐसे लोग नहीं चाहिए-योगी आदित्यनाथ         
होम | उत्तराखंड | उत्तराखंड में झमाझम बारिश

उत्तराखंड में झमाझम बारिश


उत्तराखंड में मौसम के तेवर बदलने लगे हैं। सुबह से मौसम ने लोगों को उमस ने बेचैन किया था। लेकिन दोपहर बाद मौसम का मिजाज बदला और कई जगह तेज बौछारें पड़ीं। उत्तरकाशी में तेज बारिश के साथ ही आंधी से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया, वहीं नंदप्रयाग में तूफान से स्कूल की छत उड़ गई और दो कमरे क्षतिग्रस्त हो गए। मैदानी क्षेत्रों में हल्की बूंदा-बांदी से शाम सुहानी हो गई। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में 27 जून तक बारिश का दौर चलता रहेगा। इस बीच मैदानी क्षेत्रों में 60 से 70 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से हवा भी चल सकती है। आज को पिथौरागढ़ में जिले में ऊंचाई वाले क्षेत्रो में हो रही बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। वहीं, बारिश किच्छा के लिए आफत बनकर आई। लेफ्ट पाहा नहर उफान पर आ गई। पानी ओवरफ्लो होकर लोगों के घरों में घुस गया, जिससे लाखों का सामान खराब हो गया।

मौसम में आए बदलाव से पारे की रफ्तार पर भी अंकुश लगा है। अधिकतम तापमान में करीब तीन से चार डिग्री सेल्सियस की कमी आई है। रविवार को दोपहर बाद बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के साथ ही टिहरी, उत्तरकाशी, चमोली, पिथौरागढ़ और नैनीताल में बारिश से मौसम सुहावना हो गया है। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण फिलहाल राज्य में बारिश का क्रम बना हुआ है। रुद्रपुर, अल्मोड़ा, चंपावत, रामनगर, सितारगंज, रानीखेत और पिथौरागढ़ में सुबह से ही बारिश हो रही है और मौसम विभाग के अनुसार यह  मॉनसून की बारिश है.



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: