बुधवार, 15 जुलाई 2020 | 04:55 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | देश | विश्व महामारी के चलते लॉकडाउन में सर्तक व जागरूकता अभियान चलाने के लिए विनोद बछेती सम्मानित

विश्व महामारी के चलते लॉकडाउन में सर्तक व जागरूकता अभियान चलाने के लिए विनोद बछेती सम्मानित


कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रकोप के चलते देशभर में लॉकडाउन लागू है। ऐसे में गरीब मजदूरों को खाने-पीने की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में कई लोग ऐसे हैं जो फरिश्ते बनकर संकट की इस घड़ी में लोगों को मदद पहुंचा रहे हैं। इसी कड़ी से जुड़ा नाम है समाज सेवी एवं डीपीएमआई के अध्यक्ष विनोद बछेती का,जो कोरोना काल में संकट से जूझ रहे। उस हर जरूरतमंद के साथ खड़े दिखे,जो वास्तव में मदद का हकदार है। देश भर में सरकार द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के लिए रेल,हवाई और बस सेवाओं को बंद कर दिया गया है। इस के चलते कई यात्री अपने गंतव्य तक नहीं पहुंच पा रहे है। इसी के चलते देश के तमाम दूसरे राज्यों से उत्तराखंड लौट रहे उत्तराखंड के कई लोग दिल्ली पहुंचे थे। लेकिन लॉकडाउन और दिल्ली में लगे कर्फ्यू के चलते आगे नहीं जा पाए। ऐसे में इन लोगों के सामने समस्या यह आई की इतनी बड़ी संख्या में यह लोग अब कहाँ जाए। इस संकट के समय में विनोद बछेती अपने तमाम सहयोगियों के साथ मिलकर इन लोगों की मदद के लिए आगे आए। श्री बछेती ने दिल्ली,उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड सरकार के अधिकारों के साथ मिलकर न सिर्फ लॉकडाउन में फंसे इन उत्तराखंडी प्रवासियों को उनके खेत-खलिहानों तक पहुंचाने की व्यवस्था की बल्कि जब तक इन प्रवासियों की लौटने की व्यवस्था नहीं हुई। तब तक इनके लिए दिल्ली में रुकने और खाने की व्यवस्था भी की। इसी के साथ विनोद बछेती ने एक कोरोना योद्धा की तरह समाज के प्रति अपनी भागीदारी का निर्वाह करते हुए। कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन में फंसे हजारों गरीब एवं असहाय परिवारों की मदद के लिए हाथ भी बढ़ाए। इसी कड़ी में उन्होंने दिल्ली के लक्ष्मी नगर,विनोद नगर और त्रिलोक पुरी में रह रहे गरीब और जरूरतमंद परिवारों तक खाद्य सामग्री पहुंचाने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और आज भी श्री बछेती सेवा के इस मार्ग पर चल रहे हैं। समाजसेवी विनोद बछेती को लॉकडाउन के दौरान एक कोरोना योद्धा की तरह मानव अधिकार का पालन कर गरीबों एवं जरूरतमंद लोगों की मदद करने के लिए मानव अधिकार एवं अपराध नियंत्रण संगठन द्वारा समानित किया गया। जिसके लिए विनोद बछेती ने मानव अधिकार एवं अपराध नियंत्रण संगठन एवं उनके साथ कोरोना योद्धाओं तक तरह रात-दिन गरीब एवं जरूरतमंदों की सेवा में लगे सभी संस्थाओं और कार्यकर्ताओं का आभार प्रकट किया।

© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: