बुधवार, 23 जून 2021 | 11:10 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
सीएम रावत ने रेल विकास निगम के अधिकारियों से ली ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाईन की जानकारी          हुंडई मोटर इंडिया फाउंडेशन ने उत्तराखंड को प्रदान किए वेंटिलेटर,ऑक्सीमीटर एवं सैनिटाइजर सहित अन्य सामान          सीएम ने दिखाई पांच वातानुकूलित इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी          इसरो की सेटेलाइट से बच्चें करेंगे ऑन लाइन पढ़ाई          पंजाब चुनावों से पहले कांग्रेस में छिड़ी जंग          उत्तराखंड में कोरोना कर्फ्यू के लिए दिशा-निर्देश जारी          उत्तराखंड में जल्द दूर होंगी सेवानिवृत्त राजकीय पेंशन संबंधी विसंगतियां          सचिन तेंदुलकर बने सदी के सबसे तेज बल्लेबाज          अमेरिका के राष्ट्रपति को पीछे छोड़ नंबर वन बने पीएम मोदी         
होम | दुनिया | अमेरिका क्या खत्म करा देगा इजरायल और फिलिस्तीन के बीच की जंग

अमेरिका क्या खत्म करा देगा इजरायल और फिलिस्तीन के बीच की जंग


कई दिनों से दुनिया के सबसे ताकतवर देश इजराइल और फिलिस्तीन के बीच जंग छिड़ी हुई है। जिसकी वजह से दोनों देश एक दूसरे पर जमकर बमबारी कर रहे हैं। जिसमें अब तक कई लोगों ने अपनी जान गंवा दी है। लेकिन अब दोनों देशों के बीच चल रही जंग को खत्म करने के लिए अमेरिका बीच में आया है।

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू से फोन पर बातचीत के दौरान ‘संघर्ष विराम का समर्थन’ किया। बाइडेन का यह कदम इस बात का संकेत है कि अमेरिका चाहता है कि हमास के साथ इजराइल की शत्रुता खत्म हो। 
अमेरिका, इजराइल का शीर्ष सहयोगी देश है। इजराइल-फिलीस्तीन संघर्ष के जोर पकड़ने और आम नागरिकों की मौत पर ‘गंभीर चिंता’ जताते हुए 15 देशों वाले संयुक्त सुरक्षा परिषद के सर्वसम्मत बयान को अमेरिका ने तीसरी बार रोक दिया।

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने कहा कि अमेरिका इसके बजाय ‘‘शांति, गहन कूटनीति’’ पर ध्यान दे रहा है। इसलिए ये शांतिपूर्ण कदम उठा रहा है। अमेरिका की तरफ से जारी किए गए इस बयान के बाद उम्मीद की जा रही है कि, इजरायल और फिलिस्तीन के बीच का युद्ध खत्म हो जाए।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: