बृहस्पतिवार, 6 अक्टूबर 2022 | 08:35 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | उत्तराखंड | नौकरी से निकाले जाने के बाद दहाड़े मारकर रोईं विधानसभा की महिला कर्मचारी, कई गुस्से में दिखे

नौकरी से निकाले जाने के बाद दहाड़े मारकर रोईं विधानसभा की महिला कर्मचारी, कई गुस्से में दिखे


भले ही गलत तरह से भर्तियां हुई हों, लेकिन जिसकी नौकरी जाती है, उसको अपार दुख होता है। जैसे ही विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी ने भर्तियां निरस्त करने का ऐलान किया, विधानसभा में मौजूद कर्मचारियों के आंसू छलक आए, खासकर महिला कर्मचारी रोने लगीं। कुछ कर्मचारी गुस्से में विधानसभाध्यक्ष को घेरते हुए भी नजर आए। लेकिन उत्तराखण्ड के लिए ये फैसला एक नजीर बनेगा जहां युवाओं ने सड़कों पर उतरकर सियासत को सही फैसला लेने को मजबूर कर दिया। इसके साथ ही उन युवाओं और नेताओं को रिश्तेदारों को भी सबक है कि करप्शन से मिली नौकरी कभी न कभी तो हाथ से निकल ही जाएगी, इसलिए कभी इन चक्करों में मत पड़ो।

आपको बता दें कि जांच रिपोर्ट मिलने के बाद विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी ने आज साल 2016 से लेकर 2022 तक हुई 228 तदर्थ नियुक्तियों को निरस्त कर दिया है. जिसके बाद विधानसभा में कर्मचारियों में आंसुओं का सैलाब उमड़ आया। इनमें से ज्यादातर महिला कर्मचारी हैं, जो विधानसभा से नौकरी जाने के बाद फूट-फूट कर रो रही हैं. कई महिलाएं सत्ता के नजदीकियों की पत्नी या फिर परिवार से भर्ती है। कुछ कर्मचारी आक्रोश में सामने आए, लेकिन सिक्योरिटी टीम ने विधानसभा अध्यक्ष को वहां से सुरक्षित निकालकर रवाना कर दिया। शायद इन कर्मचारियों को इतनी जल्दी फैसला लिए जाने की उम्मीद नहीं थी। उसके बाद जब सीएम धामी ने भी स्वागत कर दिया तो सबको समझ में आ गया कि अब कुछ होने वाला नहीं है। 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: