बुधवार, 29 जून 2022 | 09:52 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | देश | नारी श्राप का खामियाज़ा भुगत रहे उद्धव ठाकरे? इन 2 महिलाओं ने दी थी CM को चुनौती

नारी श्राप का खामियाज़ा भुगत रहे उद्धव ठाकरे? इन 2 महिलाओं ने दी थी CM को चुनौती


महाराष्ट्र की अघाड़ी सरकार पर संकट के बादल जिस तरह से मंडरा रहे हैं, ऐसे में पूरा देश उद्धव ठाकरे को मिले नारी श्राप को याद कर रहा है। महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे को कई मुद्दों पर कई बार विरोध का सामना करना पड़ा। फिलहाल मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सीएम आवास छोड़ दिया और मातोश्री पहुंच गए हैं। शिवसेना के विधायक और मंत्री एकनाथ शिंदे के बगावती तेवर राज्य सरकार के लिए खतरा बने हुए हैं।  इस बीच दो चर्चित महिलाओं के वीडियो खूब वायरल हो रहे हैं। इन दोनों महिलाओं के खिलाफ शिवसेना सरकार द्वारा एक्शन लिया गया था। लेकिन उद्धव ठाकरे के इस 2.5 साल के कार्यकाल में उनको सीधा चैलेंज अगर किसी ने दिया तो वो हैं एक्ट्रेस कंगना रनौट और निर्दलीय सांसद नवनीत राणा ने। इन दोनों महिलाओं ने अलग-अलग मुद्दों पर सरकार की खिलाफत की। जिसके बाद उनको इस बात का खामियाज़ा भी भुगतना पड़ा।

 

पहले बात कर लेते हैं मातोश्री में हनुमान चालीसा पढ़कर जेल जाने वाली सांसद नवनीत राणा की,आपको याद होगा महाराष्ट्र में अजान विवाद के बीच नवनीत राणा और उनके पति रवि राणा ने उद्धव ठाकरे को हनुमान चालीसा पढ़ने के लिए कहा था,  और ऐसा नहीं करने पर मातोश्री यानि उद्धव ठाकरे के निवास पर जाकर हनुमान चालीसा पढ़ने की बात कही थी। और इस ऐलान के बाद वो शिवसेना के निशाने पर आ गईं। मुंबई से अमरावती तक उनका विरोध शुरू हो गया। शिवसैनिको ने उनके घर के बाहर डेरा डाल दिया। नवनीत राणा का घर से बाहर निकलना तक बंद हो गया। जिसके बाद राणा दंपति के खिलाफ शांति भंग करने और सरकारी अधिकारी के काम में बाधा डालने के खिलाफ मामला दर्ज कर 13 दिन तक उन्हें झेल में रखा गया। देशद्रोह तक की धारा उन पर लगा दी गई।  

 

लेकिन जेल से बाहर आने के बाद भी नवनीत राणा ने हनुमान चालीसा का पाठ कर उद्धव ठाकरे को चुनाव लड़ने का खुलेआम चैलेंज दिया। नवनीत राणा ने ठाकरे को चुनौती दी थी कि वह लोगों के बीच जाएं और चुनाव जीतकर दिखाएं, आपके सामने मैं खड़ी रहूंगी और आपको जीतकर दिखाना है। आपको दिखाना होगा कि महिला की ताकत, ईमानदारी के सामने कौन चुनकर आ सकता है। हनुमान चालीसा प्रकरण के बाद से शिवसेना के हिंदुत्व वाली छवि को काफी नुकसान पहुंचा है इस कारण सरकार को कई विरोधों का सामना करना पड़ रहा है। 

 

 

और वहीं दूसरी तरफ इस वक्त एक्ट्रेस कंगना रनौट का भी एक पुराना बयान खूब वायरल हो रहा है। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में एक्ट्रेस महाराष्ट्र सरकार पर हमलावर थीं। लेकिन इस बयान के बाद बीएमसी से कंगना के घर पर बुलडोजर चला दिया था। तब कंगना ने उद्धव ठाकरे को चैलेंज देते हुए कहा था कि आज मेरा घर टूटा है, कल तेरा घमंड टूटेगा। ये वक्त का पहिया है। याद रखना हमेशा एक समान नहीं होता है। हालांकि इन दोनों बयानों का महाराष्ट्र के ताजा हालातों से कोई संबध नहीं है लेकिन महाराष्ट्र में सियासी संकट के बीच दोनों महिलाओं के ये बयान खूब वायरल हो रहे हैं।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: