मंगलवार, 30 नवंबर 2021 | 02:25 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द ने पतंजलि विश्वविद्यालय,हरिद्वार के प्रथम दीक्षांत समारोह में गोल्ड मेडलिस्ट विद्यार्थियों को प्रदान की उपाधि          ओमीक्रॉन कोरोना वेरिएंट की भारत में हुई एंट्री          वर्ष 2025 तक उत्तराखण्ड बनेगा हर क्षेत्र में अग्रणी राज्यःसीएम पुष्कर सिंह धामी          सीएम पुष्कर धामी ने राइजिंग उत्तराखण्ड कार्यक्रम में किया प्रतिभाग,गायक जुबिन नौटियाल को किया सम्मान          1 दिसंबर से सउदी अरब जा सकेंगे भारतीय          उत्तराखंड में कोरोना काल में सराहनीय कार्य करने वाले ग्राम प्रधानों को मिलेगी 10 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशि          T20 रैंकिंग में रोहित शर्मा को हुआ फायदा          15 दिसम्बर तक स्वरोजगार योजनाओं के तहत लोन के निर्धारित लक्ष्य को किए जाने के सीएम धामी ने दिए निर्देश          सीएम योगी आदित्यनाथ एवं सीएम पुष्कर धामी की लखनऊ में हुई बैठक में निपटा उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड का 21 वर्ष पुराना विवाद         
होम | देश | जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से मुठभेड़ में उत्तराखंड के दो और जवान शहीद,सीएम धामी ने जताया गहरा दुःख

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से मुठभेड़ में उत्तराखंड के दो और जवान शहीद,सीएम धामी ने जताया गहरा दुःख


जम्मू-कश्मीर से एक बार फिर दु:­खद खबर आ  रही है। जम्मू- कश्मीर के पुंछ में आतंकवादियों से मुठभेड़ में उत्तराखंड के दो और जावन शहीद हो गए हैं। शनिवार को भी जम्मू कश्मीर से उत्तराखंड के दो जवान राइफलमैन विक्रम सिंह नेगी और राइफलमैन योगंबर सिंह शहीद हो गए थे।

आज फिर से दो जवानों सूबेदार अजय रौतेला और नायक हरेंद्र सिंह रावत की शहादत की खबर मिली है। सेना से मिली जानकारी के मुताबिक बीते 14 अक्तूबर को पुंछ के मेंढर तहसील में भाटादूड़ियां के नाड़ खास के जंगलों में आतंकियों के खिलाफ काउंटर टेररिस्ट ऑपरेशन चलाया जा रहा था।

आतंकवादियों से हुई मुठभेड़ में उत्तराखंड के टिहरी निवासी सूबेदार अजय रौतेला और पौड़ी निवासी नायक हरेंद्र सिंह शहादत को प्राप्त हुए हैं। सूबेदार अजय रौतेला और नायक हरेंद्र सिंह भी सेना के उस सर्च ऑपरेशन में शामिल थे, जिसमें गुरुवार को उत्तराखंड के दो जवान शहीद हो गए थे। इस दौरान दोनों घायल हो गए थे और लापता हो गए थे। 

इस ऑपरेशन के दौरान आतंकियों के साथ मुठभेड़ में टिहरी गढ़वाल के नरेंद्रनगर ब्लाक के खाड़ी-रामपुर गांव निवासी सूबेदार अजय रौतेला पुत्र स्व.अब्बल सिंह रौतेला और पौड़ी गढ़वाल,लैंसडाउन तहसील के अंतर्गत रिखणीखाल ब्लॉक के पीपलसार गांव के नायक हरेंद्र सिंह रावत शहीद हो गए हैं।

अजय रौतेला 17 गढ़वाल राइफल में थे और वर्तमान में आरआर 48 (राष्ट्रीय राइफल) में जम्मू कश्मीर में तैनात थे। दो साल बाद उनका रिटायरमेंट था। 12 सितंबर को ही अजय छुट्टी बिताकर जम्मू-कश्मीर ड्यूटी पर गए थे। सूचना मिलते ही अजय रौतेला के परिजन देहरादून से रामपुर गांव पहुंच गए। यह खबर सुनते ही परिवार में कोहराम मच गया और गांव में मातम पसर गया।

आपको बता दें कि कश्मीर के पुंछ में आतंकवादियों के खिलाफ सेना द्वारा चलाये गए काउंटर टेररिस्ट ऑपरेशन में अब तक सेना ने 13 आतंकियों को मार गिराया है, हालाँकि इस ऑपरेशन में सेना के 9 वीर जवानों के शहीद होने की खबर है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी एवं पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत ने व्यक्त किया गहरा शोक

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए उत्तराखण्ड के सूबेदार अजय रौतेला तथा नायक हरेंद्र सिंह रावत के शहीद होने पर शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने शहीद के परिजनों को दुःख की इस घङी में धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है।

पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपने शोक संदेश में कहा है कि पुंछ,राजौरी में आज सैन्यधाम उत्तराखंड के दो और वीर सपूतों के शहीद होने का दुःखद समाचार। जय हिंद!

मां भारती की रक्षा की खातिर जम्मू कश्मीर के पुंछ, राजौरी में आतंकियों से मुठभेड़ में वीरगति को प्राप्त हुए 17 गढ़वाल राइफल के सूबेदार अजय सिंह रौतेला जी (ग्राम रामपुर, टिहरी गढ़वाल) और 16 गढ़वाल राइफल के जवान हरेंद्र सिंह रावत जी (ग्राम पिपलसारी, पौड़ी) की शहादत को मेरा सलाम।

आपके साहस, शौर्य व समर्पण पर मां भारती के साथ ही सैन्यधाम गौरवान्वित है। ईश्वर पुण्यात्माओं को शांति व परिजनों को धैर्य प्रदान करें। ओम शांति!



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: