सोमवार, 23 सितंबर 2019 | 11:08 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
सेंसेक्स के इतिहास में अब तक की सबसे बड़ी तेजी, 1 दिन में ही निवेशकों को 7 लाख करोड़ रुपए का फायदा          इंतजार खत्म- वायुसेना को मिला पहला राफेल फाइटर जेट, दिया गया नए वायुसेना प्रमुख का नाम          जीएसटी काउंसिल की बैठक: ऑटो सेक्टर को नहीं मिली राहत, होटल कमरों पर कम हुई टैक्स दर          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          मौत का एक्सप्रेस वे बना यमुना एक्सप्रेस वे, इस साल हादसों में गई 154 लोगों की जान          महाराष्ट्र, हरियाणा में 21 अक्टूबर को होगा विधानसभा चुनाव, 24 को आएंगे नतीजे          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | धर्म-अध्यात्म | जगदगुरु शंकराचार्य स्वामी सत्यमित्रानंद महाराज का श्रद्धांजलि समारोह आज

जगदगुरु शंकराचार्य स्वामी सत्यमित्रानंद महाराज का श्रद्धांजलि समारोह आज


भारत माता मंदिर के संस्थापक निवर्तमान जगदगुरु शंकराचार्य स्वामी सत्यमित्रानंद महाराज का श्रद्धांजलि समारोह आज सप्तऋषि आश्रम के निकट होगा। इस श्रदांजलि कार्यक्रम में सूबे के मुख्य मंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत समेत कई कैबिनेट मंत्री शिरकत करेंगे। इसी के साथ सिक्किम ,मेघालय,हिमाचल प्रदेश,झारखंड,बिहार,गोवा आदि राज्यों के राज्यपा हरिद्वार पहुंच रहे है।

भारत माता मंदिर के संस्थापक एवं शंकराचार्य स्वामी सत्यमित्रानंद गिरि महाराज का श्रद्घांजलि समारोह और षोड़शी को उत्तरी हरिद्वार स्थित सप्तऋषि आश्रम के मैदान में होगी। इसमें आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत सहित कई केंद्रीय मंत्री, प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, राज्यपाल बेबी रानी मौर्य समेत देशभर से संत आदि शामिल होंगे। 
पद्मश्री सम्मान से सम्मानित स्वामी सत्यमित्रानंद गिरि महाराज का देहावसान विगत 25 जून को हो गया था। उनकी पार्थिव देह को हरिपुर कलां स्थित उनके भारत माता मंदिर जनहित ट्रस्ट राघव कुटीर परिसर में भू समाधि दी गई थी। संत परंपरा के अनुसार 16 दिन बाद षोड़शी समारोह का आयोजन किया जाता है।

स्वामी सत्यमित्रानंद गिरि के शिष्य जूना पीठाधीश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि ने बताया की षोड़शी समारोह के लिए परंपरा अनुसार सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। उन्होंने बताया कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन, गोवा की राज्यपाल मृदुला सिंहा, मेघालय के राज्यपाल तथागत राय, सिक्किम के राज्यपाल गंगा प्रसाद, झारखंड की राज्यपाल द्रोपदी मुर्मू, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक, शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेंद्र गिरि महाराज, महामंत्री श्री महंत हरिगिरि महाराज सहित बड़ी संख्या में संत शामिल होंगे। इनमें से कई विशिष्ट अतिथि मंगलवार की शाम ही हरिद्वार पहुंच गए हैं। आयोजन स्थल पर व्यवस्थाओं को लेकर जिलाधिकारी दीपेंद्र सिंह चौधरी और एसएसपी जन्मेजय प्रभाकर खंडूड़ी ने अधिकारियों के साथ निरीक्षण किया।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: