सोमवार, 8 अगस्त 2022 | 06:20 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
प. बंगाल: अर्पिता मुखर्जी के फ्लैट से 28.90 करोड़ रुपये और 5 किलो से ज्यादा सोना बरामद          उत्तराखंड में कोरोना के 334 नए मामले, 2 लोगों की मौत          1 से 4 अगस्त तक भारत दौरे पर रहेंगे मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम सोलिह          बंगाल शिक्षा घोटाला: पार्थ चटर्जी को मंत्री पद से हटाया गया           संसद में स्मृति ईरानी और सोनिया गांधी के बीच नोकझोंक           गुजरात: जहरीली शराब कांड में एक्शन, SP का तबादला, 2 डिप्टी SP सस्पेंड           दिल्ली में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 3 गिरफ्तार          पार्थ चटर्जी के घर में चोरी, लोग समझे ED का छापा पड़ा है          कर्नाटक में प्रवीण हत्याकांड में पुलिस ने अब तक 21 लोगों की हिरासत में लिया         
होम | उत्तराखंड | योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने थामा सपा का हाथ

योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने थामा सपा का हाथ


उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के ठीक पहले भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका लगा है। योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे स्वामी प्रसाद मौर्य ने इस्तीफा दे दिया है। इसी के साथ मौर्य समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए है। जिसके बाद माना जा रहा हैं कि स्वामी प्रदास मौर्य के समर्थन में अभी भाजपा के कुछ और विधायक में समाजवादी पार्टी में शामिल हो सकते है।

उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को भेजे अपने इस्तीफे स्वामी प्रसाद मौर्य ने लिखा हैं कि मैंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के मंत्रिमंडल में श्रम एवं सेवायोजन और समन्यवय मंत्री के रूप में विपरीत परिस्थियों व विचारधारा में रहकर भी बहुत ही मनोयोग के साथ उत्तरदायित्व का निर्वहन किया है। लेकिन दलितों,पिछड़ों,किसानों,बेरोजगार नौजवानों एवं छोटे-लघु एवं मध्यम श्रेणी के व्यापारियों की घोर उपेक्षात्मक रवैये के कारण उत्तर प्रदेश के मंत्रिमण्डल से इस्तीफा देता हूं।

इसके बाद स्वामी प्रसाद मौर्य ने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव से मुलाकात की हैं,और अखिलेश ने ट्विटर कर मौर्य के उनकी पार्टी में स्वागत की खबर दी। समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने स्वामी प्रसाद मौर्य और अन्य नेताओं का अपनी पार्टी में स्वागत किया। उन्होंने लिखा सामाजिक न्याय और समता-समानता की लड़ाई लड़ने वाले लोकप्रिय नेता स्वामी प्रसाद मौर्य एवं उनके साथ आने वाले अन्य सभी नेताओं,कार्याकर्ताओं और समर्थकों का सपा में ससम्मान हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन।

स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे का बाद बीजेपी में हलचल है। उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट कर कहा हैं कि,आदरणीय स्वामी प्रसाद मौर्य जी ने किन कारणों से इस्तीफा दिया है मैं नहीं जानता हूँ उनसे अपील है कि बैठकर बात करें जल्द बाजी में लिये हुये फैसले अक्सर गलत साबित होते हैं। लेकिन इस सब के बीच स्वामी प्रसाद मौर्य के समर्थन में भाजपा के दो और विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है। जिनमें बांदा के तिंदवारी से विधायक बृजेश प्रजापति और कानपुर से बिल्होर के विधायक भगवती सागर का नाम शामिल है।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: