रविवार, 23 फ़रवरी 2020 | 01:31 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
भारत बना रहा है नेवी के लिए नई हाईटेक क्रूज मिसाइल, जद में होगा पाकिस्‍तान          भारतीयों के स्विस खातों, काले धन के बारे में जानकारी देने से वित्त मंत्रालय ने किया इंकार          पीएम की कांग्रेस को खुली चुनौती,अगर साहस है तो ऐलान करें,पाकिस्तान के सभी नागरिकों को देंगे नागरिकता          नागरिकता संशोधन कानून पर जारी विरोध के बीच पीएम मोदी ने लोगों से बांटने वालों से दूर रहने की अपील की है          भारतीय संसद का ऐतिहासिक फैसला,सांसदों ने सर्वसम्मति से लिया फैसला,कैंटीन में मिलने वाली खाद्य सब्सिडी को छोड़ देंगे           60 साल की उम्र में सेवानिवृत्त करने पर फिलहाल सरकार का कोई विचार नहीं- जितेंद्र सिंह          मोदी सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली की अवैध कॉलोनियां होगी नियमित          पीओके से आए 5300 कश्मीरियों के लिए मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, मिलेंगे साढ़े पांच लाख रुपये          पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल किया कि उनका देश कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिशों में नाकाम रहा          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | धर्म-अध्यात्म | राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य पहुंची परमार्थ निकेतन

राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य पहुंची परमार्थ निकेतन


परमार्थ निकेतन में उत्तराखण्ड की राज्यपाल महामहिम बेबी रानी मौर्य  और भारतीय पाश्र्वगायक श्री सुरेश वाडेकर जी पधारे। परमार्थ गंगा तट पर आयोजित सांस्कृतिक संध्या का उद्घाटन उत्तराखण्ड की राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ,परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी, जीवा की अन्तर्राष्ट्रीय महासचिव साध्वी भगवती सरस्वती जी ने दीप प्रज्जवलित कर किया।

स्टार कलाकार बालीवुड के पाश्र्वगायक श्री सुरेश वाड़ेकर जी ने परमार्थ निकेतन में दर्शकों का खूब मनोरंजन किया। उनके संगीत पर विदेशियों ने भी खूब नृत्य किया।

 उत्तराखंड की राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य अपने परिवार के साथ परमार्थ निकेतन पधारी उन्होने माँ गंगा की पूजा अर्चना की। साथ ही स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी के पावन सान्निध्य और आशीर्वाद से उन्होने अपने पोते का नामकरण संस्कार किया। बच्चे का नाम शिवांग रखा गया। स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने कहा कि नाम का व्यक्ति के जीवन पर बहुत गहरा असर पड़ता है। बच्चे का जो नाम होता है उन गुणों की अनुभूति उसे होती रहती है। नामकरण संस्कार के विषय में स्मृति संग्रह में लिखा है

आयुर्वर्चोअभिवृध्दिश्च सिध्दिव्रर्यवहृतेस्तथा। नामकर्मफलं त्वेतत् समुद्दिष्टं मनीषिभिः।

अर्थात नामकरण संस्कार से आयु तथा तेज की वृद्धि होती है और लौकिक व्यवहार में नाम की प्रसिद्धि से व्यक्ति का अलग अस्तित्व बनता है।

 स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज और महामहिम बेबी रानी मौर्य जी की महिला सशक्तिकरण, एकल उपयोग प्लास्टिक का उपयोग न करने, पर्यावरण और हिमालय संरक्षण के विषय में विस्तृत चर्चा हुई।

 स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज ने कहा कि उत्तराखण्ड जैव विविधता से समृ़द्ध राज्य है। यह राज्य प्रकृति की जींवतता को दर्शाता है तथा सांस्कृतिक और आध्यात्मिक दृष्टि से भी समृद्ध है। हिमालय और गंगा के सौन्दर्य और पवित्रता को बनाये रखने के लिये एकल उपयोग प्लास्टिक का उपयोग बंद किया जाना चाहिये।

महिला सशक्तिकरण पर चर्चा करते हुये स्वामी जी ने कहा कि भारत में महिलाओं की भूमिका बदल रही है वे अपने अधिकारों और स्वतंत्रता के विषय में जागरूक हो रही है परन्तु कुछ क्षेत्रों में अभी भी इस ओर कार्य करने की जरूरत है। वर्तमान समय में हो रहे पर्यावरणीय प्रदूषण के कारण स्वास्थ्य और जीवन स्तर पर पड़ने वाले विपरीत प्रभाव पर चिंता व्यक्त करते हुये कहा कि हमारे राज्य को स्वच्छ और प्रदूषण मुक्त बनाने के लिये चरणबद्ध और सतत विकास की आवश्यकता है, उसमें भी अगर विकास पर्यावरण संरक्षण के जरिये प्राप्त किया जाये तो बेहतर होगा।

स्वामी जी ने कहा कि संगीत एक ऐसी विधा है जिसके तार हृदय से जुड़ते है। सभी संगीतज्ञों का आहवान करते हुये स्वामी जी ने कहा कि संगीत के मंच से पर्यावरण और जल संरक्षण का संदेश प्रसारित किया जाये तो हमें इसके प्रभावी परिणाम प्राप्त हो सकते है।

 स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज ने पाश्र्वगायक श्री सुरेश वाड़ेकर, महामहिम श्रीमती बेबी रानी मौर्य जी को पर्यावरण का प्रतीक रूद्राक्ष का पौधा भेंट किया। सभी ने परमार्थ गंगा तट पर होने वाले विश्व शान्ति हवन में आहुति प्रदान कर गंगा आरती में सहभाग किया।

 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: