सोमवार, 25 जनवरी 2021 | 12:36 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | देश | अब सुप्रीम कोर्ट से नाराज हुए किसान

अब सुप्रीम कोर्ट से नाराज हुए किसान


किसान कानूनों के विरोध में पिछले 49 दिनों से दिल्ली की सीमाओं सहित देशभर के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन चल रहा है। क्योंकि मामला बहुत ज्यादा बढ़ चुका है। इसलिये ये मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है। जहां पर सुप्रीम कोर्ट ने किसान कानूनों पर कमेटी की रिपोर्ट आने तक रोक लगा दी है। लेकिन सुप्रीम कोर्टे के इस फैसले से भी किसान नाराज हैं। इसके साथ ही सुप्रीम कर्टे की सुनवी के दौरान किसान पक्ष को रख रहे चारों वकील कोर्ट नही पहुंचे। जिसकी वजह से चीफ जस्टिस को काफी गुस्सा आ गया। इन चारों वकील में दुष्यंत दवे, प्रशांत भूषण, कॉलिन गोंसाल्विस और एचएस फूलका शामिल हैं। इन चारों वकीलों ने कृषि कानूनों पर प्रस्तावित समिति के समक्ष पेश होने की किसान संगठनों की इच्छा पर प्रतिक्रिया के साथ 24 घंटे से कम समय में वापस आने का वादा किया था।

सीजेआई ने सुवाई के दौरान चारों अनुभवी वकीलों की  अनुपस्थिति पर नाराजगी प्रकट की। सीजेआई ने कहा, "बार के सदस्य, जो पहले अदालत के अधिकारी हैं और फिर अपने मुवक्किलों के वकील हैं, उनसे कुछ वफादारी दिखाने की उम्मीद की जाती है। आप अदालत के सामने तब हाजिर होंगे जब यह आपके अनुरूप होगा और यदि नहीं होता है तो आप नहीं आएंगे। आप ऐसा नहीं कर सकते हैं।" किसानों के वकीलो के द्वारा कोर्ट मे न आवे से सुप्रीम कोरेट में काफी गुस्सा देखने को मिला।

 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: