बुधवार, 23 जून 2021 | 10:54 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
सीएम रावत ने रेल विकास निगम के अधिकारियों से ली ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाईन की जानकारी          हुंडई मोटर इंडिया फाउंडेशन ने उत्तराखंड को प्रदान किए वेंटिलेटर,ऑक्सीमीटर एवं सैनिटाइजर सहित अन्य सामान          सीएम ने दिखाई पांच वातानुकूलित इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी          इसरो की सेटेलाइट से बच्चें करेंगे ऑन लाइन पढ़ाई          पंजाब चुनावों से पहले कांग्रेस में छिड़ी जंग          उत्तराखंड में कोरोना कर्फ्यू के लिए दिशा-निर्देश जारी          उत्तराखंड में जल्द दूर होंगी सेवानिवृत्त राजकीय पेंशन संबंधी विसंगतियां          सचिन तेंदुलकर बने सदी के सबसे तेज बल्लेबाज          अमेरिका के राष्ट्रपति को पीछे छोड़ नंबर वन बने पीएम मोदी         
होम | देश | इस साल कैसा रहेगा मानसून

इस साल कैसा रहेगा मानसून


देश में मानसून ने दस्तक दे दी है। जिसका असर दिखना शुरू हो गया है। इस बीच मौसम विभाग की तरफ से एक बड़ी जानकारी दी गई है। जिससे पता चल जायेगा कि, देश में इस साल मानसून कैसा रहेगा। किन स्थानों पर सबसे ज्यादा बारिश होगी और कौन से स्थान इस बार सूखे का शिकार रहेंगे।
बंगाल की खाड़ी में बनने वाला निम्न दबाव, मानसून को तेजी से आगे बढ़ा रहा है।जिसके प्रभाव से आज ओडिशा, बंगाल, छत्तीसगढ़ और यूपी के कुछ हिस्सों में मध्यम बारिश हो सकती है।वहीं, पूर्वोत्तर भारत व झारखंड और बिहार के कुछ हिस्सों में तेज मूसलाधार वर्षा हो सकती है। झारखंड के आसपास के क्षेत्र में एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है।
गुजरात के कुछ और हिस्सों, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के बाकी बचे इलाकों, पूरे बंगाल और झारखंड, बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों और उत्तरी बंगाल की खाड़ी में मानसून के अगले 48 घंटे में पहुंचने के लिए अनुकूल परिस्थितियां बनी हुई हैं। विभाग के अनुसार पश्चिमोत्तर भारत के मैदानी इलाकों में अगले चार दिनों तक तेज हवाएं 25 से 35 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने की संभावना है।
इस दौरान लोगों को गर्मी से राहत मिल सकती है। देश में गर्मी से लोगों का बुरा हाल है। सभी को बारिश का इंतजार है।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: