रविवार, 27 सितंबर 2020 | 10:02 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
टाइम मैग्जीन ने जारी की दुनिया के 100 प्रभावशाली लोगों की लिस्ट,पीएम मोदी लिस्ट में इकलौते भारतीय ने          पीएम मोदी ने फिट इंडिया मूवमेंट के एक साल पूरा होने पर,बताए अपनी फिटनेस के सीक्रेट          डीआरडीओ को मिली बड़ी कामयाबी,अर्जुन टैंक से लेजर गाइडेड एंटी टैंक मिसाइल का सफल परीक्षण          ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर डीन जोन्स का मुंबई में दिल का दौरा पड़ने से निधन          पॉलिसी उल्लंघन के कारण गूगल ने पेटीएम को हटाया,पेटीएम ने कहा,पैसे हैं सुरक्षित          प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के किसानों को आश्वस्त किया कि लोकसभा से पारित कृषि सुधार संबंधी विधेयक उनके लिए रक्षा कवच का काम करेंगे           उत्तराखंड में भूमि पर महिलाओं को भी मिलेगा मालिकाना हक          सीएम रावत ने गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई को लिखा पत्र,उत्तराखंड में आइटी सेक्टर में निवेश करने का किया अनुरोध           कोरोना के चलते रद्द हुई अमरनाथ यात्रा,अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने रद्द करने का किया एलान           बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | क्राइम | सलमान खान की हत्या की साजिश रचने वाला आरोपी सांगा पौड़ी गढ़वाल से गिरफ्तार

सलमान खान की हत्या की साजिश रचने वाला आरोपी सांगा पौड़ी गढ़वाल से गिरफ्तार


सलमान खान की रेकी करने व थाना एसजीएम नगर एरिया में प्रवीन हत्याकांड को अंजाम देने वाले शार्प शूटर राहुल उर्फ सांगा उर्फ बाबा को क्राइम ब्रान्च डीएलएफ ने उत्तराखंड से 15 अगस्त को गिरफ्तार किया. शातिर बदमाश राहुल ने गैंगस्टर लोरेन्स बिशनोई व सम्पत नहेरा के कहने पर जनवरी 2020 में मुम्बई जाकर सलमान खान की रेकी की थी. दिसम्बर 2019 में बदमाश राहुल ने दिल्ली से बदमाश नरेश शेट्टी को पुलिस की आंखों मे मिर्च झौंककर पुलिस कस्टडी से भगाया था. बाद में नरेश सेठी, कपिल व अन्य साथियों की मदद से संदीप जठेडी को गुड़गांव पुलिस की कस्टडी से छुड़वाया था. नरेश सेठी,कपिल व अन्य साथी अभी जेल में हैं. 

 एसजीएम नगर में प्रवीन हत्या से पहले भी बदमाश राहुल उर्फ बाबा मनजीत के साथ मिलकर भिवानी में अनुज तथा कपिल के साथ मिलकर झज्जर में विकास की हत्या की वारदात को अंजाम दे चुका है. 

फरीदाबाद में डीसीपी मुख्यालय राजेश दुग्गल ने बताया कि आरोपी राहुल ने 2016 से 2018 तक फरीदाबाद  ESIC अस्पताल में अस्थाई तौर पर नौकरी की थी. 2018 मे क्राइम  ब्रांच बडखल ने राहुल से अवैध हथियार बरामद करके उसे जेल भेजा था. जेल से जमानत पर आने के बाद राहुल लोरेन्स बिशनोई की गैंग मे शामिल हो गया.

बदमाश राहुल को शक था कि उसे पकड़वाने में प्रवीन का हाथ है. इस रंजिश के कारण राहुल उर्फ बाबा और उसके साथियों ने दुकान पर आकर प्रवीन की गोली मारकर हत्या कर दी. उसके साथी रोहित,आशीष वा मनीष ने उसे छुपाया वा नोएडा भगाने में मदद की थी. वारदात की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस की अपराध शाखा DLF फरीदाबाद में टीम का गठन किया गया था.

 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: