शनिवार, 29 जनवरी 2022 | 06:25 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
सीएम योगी ने प्रयागराज में अतीक से मुक्त भूमि पर किया शिलान्यास, बोले- दीवारों से निकल रहा गरीबों का पैसा          राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द ने पतंजलि विश्वविद्यालय,हरिद्वार के प्रथम दीक्षांत समारोह में गोल्ड मेडलिस्ट विद्यार्थियों को प्रदान की उपाधि          ओमीक्रॉन कोरोना वेरिएंट की भारत में हुई एंट्री          वर्ष 2025 तक उत्तराखण्ड बनेगा हर क्षेत्र में अग्रणी राज्यःसीएम पुष्कर सिंह धामी          सीएम पुष्कर धामी ने राइजिंग उत्तराखण्ड कार्यक्रम में किया प्रतिभाग,गायक जुबिन नौटियाल को किया सम्मान          1 दिसंबर से सउदी अरब जा सकेंगे भारतीय          उत्तराखंड में कोरोना काल में सराहनीय कार्य करने वाले ग्राम प्रधानों को मिलेगी 10 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशि          T20 रैंकिंग में रोहित शर्मा को हुआ फायदा          15 दिसम्बर तक स्वरोजगार योजनाओं के तहत लोन के निर्धारित लक्ष्य को किए जाने के सीएम धामी ने दिए निर्देश          सीएम योगी आदित्यनाथ एवं सीएम पुष्कर धामी की लखनऊ में हुई बैठक में निपटा उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड का 21 वर्ष पुराना विवाद         
होम | क्राइम | इन देशों में आतंकी मासूम बच्चों की कर रहे भर्ती

इन देशों में आतंकी मासूम बच्चों की कर रहे भर्ती


पूरी दुनिया में आतंक को फैलeकर दहशत पैदा करने वाले ऐसे कई सारे देश हैं, जो अकसर दुनिया के सामने बेनकाब होते रहते हैं। एक बार फिर से आतंक का गंदा चेहरा सामने आया है। दुनिया के कई सारे देशों में आतंकवादी बनाने के लिए मासूम बच्चों को भर्ती किया जा रहा है। इस्लाम खबर की एक रिपोर्ट के मुताबिक यूएस और यूरोप की काउंटर-टेररिज्म एजेंसियों ने आतंकी सगंठन में इन युवाओं को भर्ती किये जाने की आलोचना की है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि कम से कम 58 आतंकी संगठन 15 देशों में बच्चों की भर्ती आतंकवाद फैलाने के लिए कर रहे हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि, दो तरीकों से बच्चों की भर्तियां की जा रही है। कई बच्चों को सहानुभूति दिखाकर ग्रुप में शामिल किया जा रहा है। उन्हें विश्वास दिलाया जा रहा है कि आतंकी संगठन की सदस्यता लेने के बाद उनके समुदाय तथा परिवार की सुरक्षा होगी। दूसरा तरीका यह है कि इन बच्चों को अगवा कर या फिर तस्करी के माध्यम से लाकर उन्हें जबरन संगठन की सदस्यता दिलाई जा रही है। काउंटर टेररिज्म एजेंसियों की रिपोर्ट में आगे खुलासा किया गया है कि आईएसआईएस की हुकूमत वाले कुछ इलाकों में साल 2013 से 2018 के बीच करीब 730 बच्चों का जन्म हुआ। हालांकि, अनुमान है कि इस आतंकी संगठन के कंट्रोल वाले सभी इलाकों को मिला दें तो करीब 5000 बच्चों का जन्म हुआ है। जिसके कारण आतंक और भी ज्यादा बढ़ता जा रहा है।

 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: