रविवार, 21 जुलाई 2019 | 08:47 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
81 साल की उम्र में शीला दीक्षित का निघन          शीला दीक्षित 15 साल तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं थी          दिल्ली की सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का दिल्ली में निधन          इसरो ने किया ऐलान, अब 22 जुलाई को लॉन्च होगा चंद्रयान-2          कुलभूषण जाधव मामले पर पीएम मोदी ने जताई खुशी कहा- ये सच्चाई और न्याय की जीत है          भारतीय वायुसेना के लिए गेम चेंजर साबित होगी राफेल-सुखोई की जोड़ी,एयर मार्शल भदौरिया          कुलभूषण जाधव केस, ICJ में भारत की बड़ी जीत, फांसी की सजा पर रोक, पाकिस्तान को सजा की समीक्षा का आदेश          गृह मंत्री अमित शाह का बड़ा बयान, कहा- सभी घुसपैठियों और अवैध प्रवासियों को करेंगे देश से बाहर          पीएम नरेंद्र मोदी सितंबर में अमेरिका जाएंगे, जहां भारतीय समुदाय के लोगों से उनकी मुलाकात हो सकती है। इस दौरान दुनिया के कई अन्‍य देशों के नेताओं से भी मुलाकात की संभावना है          भाजपा को 2016-18 के बीच 900 करोड़ रू से ज्यादा चंदा मिला, एडीआर की रिपोर्ट में आया सामने          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार          बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव ने किया तेज सेना का गठन           भ्रष्ट अफसरों को जबरन वीआरएस दिया जाए, ऐसे लोग नहीं चाहिए-योगी आदित्यनाथ         
होम | उत्तराखंड | मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत को उत्तराखण्ड क्षत्रिय रत्न सम्मान

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत को उत्तराखण्ड क्षत्रिय रत्न सम्मान


मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने टाउन हॉल नगर निगम, देहरादून में क्षत्रिय चेतना मंच कल्याण संस्था द्वारा आयोजित महाराणा प्रताप जंयती एवं उत्तराखण्ड क्षत्रिय रत्न सम्मान समारोह का शुभारम्भ वीर शिरोमणी महाराणा प्रताप के चित्र पर पुष्प अर्पित करते हुए किया। 

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने क्षत्रिय चेतना मंच कल्याण संस्था द्वारा किए जा रहे समाज सेवा के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि समाज को गतिशील रखने के लिए संवेदनशीलता बहुत जरूरी है और मनुष्य होने के नाते कुछ ना कुछ संवेदनशीलता हम सब में होती है। जरूरतमंदों की सहायता करके हम अपने मानव धर्म को निभा सकते हैं। उन्होंने कहा कि सामाजिक संस्थाएं यदि समाज हित से जुड़े कार्यों को गंभीरता तथा जिम्मेदारी से निर्वहन करे तो उन्हें समाज में स्थायित्व तथा पहचान मिलती है। क्षत्रिय चेतना मंच द्वारा गरीब बच्चों की शिक्षा, पर्यावरण संरक्षण सहित अन्य समाज के उत्थान के क्षेत्र में किये जा रहे कार्य सराहनीय है। उन्होंने कहा कि समाज के हर वर्ग के उत्थान के लिए सरकार के साथ ही जन सहयोग भी जरूरी होता है। 
मुख्यमंत्री ने जनता एवं सामाजिक संस्थाओं का आह्वान किया कि हमें प्रदेश की नदियों को बचाना होगा। उन्हें पुनर्जीवित करना होगा। उन्होंने कहा कि नदियों को पुनर्जीवित करने के लिए राज्य सरकार प्रयास कर रही है। इसके लिए रिस्पना व कोसी से अभियान की शुरूआत की गई है।
कार्यक्रम में क्षत्रिय चेतना मंच द्वारा मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र को उत्तराखण्ड क्षत्रिय रत्न से सम्मानित किया गया। 
इस अवसर पर विधायक खजानदास, मेयर सुनिल उनियाला गामा, क्षत्रिय चेतना मंच के अध्यक्ष  मोहन सिंह चौहान, उपाध्यक्ष मातबर सिंह बिष्ट, महासचिव रवि सिंह नेगी, संरक्षक राजेन्द्र सिंह खत्री सहित अन्य गणमान्य उपस्थित थे। 
 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: