मंगलवार, 21 जनवरी 2020 | 06:00 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
जगत प्रकाश नड्डा निर्विरोध चुने गए बीजेपी के अध्यक्ष          गणतंत्र दिवस पर बड़े आतंकी हमले की साजिश नाकाम, जैश के पांच आतंकी गिरफ्तार          एजीआरः टेलीकॉम कंपनियों को एक हफ्ते में चुकाना होगा 1.04 लाख करोड़ रुपये, पुनर्विचार याचिका खारिज          हिमाचल सरकार ने खोला नौकरियों का पिटारा, भरे जाएंगे 2500 पद, पढ़ें कैबिनेट के बड़े फैसले          महेंद्र सिंह धोनी BCCI के सालाना अनुबंध से भी बाहर, इन खिलाड़ियों को किया गया शामिल          जम्मू-कश्मीरः आफत बनकर आया हिमस्खलन, बर्फीले तूफान की चपेट में आने से तीन जवान शहीद, दो लापता          दिल्ली विधानसभा चुनाव की घोषणा 70 विधानसभा सीटों पर 8 फरवरी को होंगे चुनाव 11 फरवरी आएंगे नतीजे           सीबीएसई के निर्देश, अब 75 प्रतिशत से कम हाजिरी वाले छात्र नहीं दे पाएंगे परीक्षा          पांच महीने बाद कश्मीर में एसएमएस और सरकारी अस्पतालों में ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवा शुरू          मनोज मुकुंद नरवाणे बने देश के 28वें सेनाध्यक्ष          भारतीयों के स्विस खातों, काले धन के बारे में जानकारी देने से वित्त मंत्रालय ने किया इंकार          पीएम की कांग्रेस को खुली चुनौती,अगर साहस है तो ऐलान करें,पाकिस्तान के सभी नागरिकों को देंगे नागरिकता          नागरिकता संशोधन कानून पर जारी विरोध के बीच पीएम मोदी ने लोगों से बांटने वालों से दूर रहने की अपील की है          भारतीय संसद का ऐतिहासिक फैसला,सांसदों ने सर्वसम्मति से लिया फैसला,कैंटीन में मिलने वाली खाद्य सब्सिडी को छोड़ देंगे           60 साल की उम्र में सेवानिवृत्त करने पर फिलहाल सरकार का कोई विचार नहीं- जितेंद्र सिंह          मोदी सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली की अवैध कॉलोनियां होगी नियमित          पीओके से आए 5300 कश्मीरियों के लिए मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, मिलेंगे साढ़े पांच लाख रुपये          देश के सबसे बड़ा सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक पब्लिक प्रॉविडेंट फंड पर सेविंग अकाउंट की तुलना में दे रहा है डबल ब्याज           पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल किया कि उनका देश कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिशों में नाकाम रहा          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | उत्तराखंड | उत्तराखंड पर हार का खतरा?

उत्तराखंड पर हार का खतरा?


रणजी ट्रॉफी में उत्तराखंड पर हार का खतरा मंडरा रहा है। त्रिपुरा के खिलाफ बल्लेबाजों के बाद गेंदबाज भी खास प्रदर्शन नहीं कर सके। त्रिपुरा ने 189 रनों की बढ़त के साथ पहली पारी 279 रन पर पारी घोषित कर दी। उत्तराखंड ने दूसरी पारी में 21 रन पर एक विकेट गंवा दिया है और अब मंगलवार को आखिरी दिन उत्तराखंड के सामने मैच को बचाने की चुनौती होगी।

एमबीबी स्टेडियम अगरतला में चल रहे मैच के तीसरे दिन त्रिपुरा ने पहली पारी का खेल आगे बढ़ाया। सिंघा 58 और देय 54 रन बनाकर पवेलियन लौटे। इसके बाद हरमीत सिंह ने उत्तराखंड के गेंदबाजों की परीक्षा ली। हरमीत ने 102 रनों की शतकीय पारी खेली। मिलिंद ने 5 रन बनाए। त्रिपुरा ने अपनी पारी 70.4 ओवर में पांच विकेट के नुकसान पर 279 रनों पर घोषित की।

 

एमबी मुरा सिंह 32 रन बनाकर नाबाद लौटे। उत्तराखंड की तरफ से डी नेगी ने 2, राहिल शाह, प्रदीप चमोली ने 1-1 विकेट लिया। इसके बाद उत्तराखंड की दूसरी पारी की शुरुआत खराब रही। सलामी बल्लेबाज आर्य सेठी शून्य पर पवेलियन लौटे।

 

उन्मुक्त चंद और तन्मय श्रीवास्तव क्रीज पर डटे रहे। मैच खत्म होने पर उत्तराखंड का स्कोर 11 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर 21 रन रहा। उन्मुक्त 6 और तन्मय 13 रन पर नाबाद लौटे। उत्तराखंड अब भी 168 रन पीछे है। जिसेदेखकर लग रहा है कि उत्तराखंड पर हार का खतरा मंडरा रहा है।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: