बृहस्पतिवार, 8 दिसम्बर 2022 | 05:22 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | देश | सचिन पायलट को ‘निपटाने’ के बाद गहलोत ने मांग ली माफी, अब सोनिया क्या करेंगी ?

सचिन पायलट को ‘निपटाने’ के बाद गहलोत ने मांग ली माफी, अब सोनिया क्या करेंगी ?


कांग्रेस आलाकमान ने सियासी गोटियां बहुच सोच समझकर बिछाई थीं। परिवार के वफादार अशोक गहलोत को दिल्ली में कांग्रेस की कमान संभालनी थी- ताकि पीछे से ताकत परिवार के हाथ में ही रहे। उधर सचिन पायलट से राजस्थान का सीएम बनाने का वादा भी निभाना था। सब कुछ ठीक चल रहा था, लेकिन अचानक जादू हो गया। कांग्रेस के दिग्गज नेता अशोक गहलोत जादूगर भी रहे हैं, उन्होंने ऐसा मंतर मारा कि कांग्रेस के 80 से ज़्यादा विधायकों ने खुलेआम इस्तीफे का ऐलान कर दिया। पहले मीडिया के सामने न केवल सचिन पायलट की तगड़ी बेइज्जती कर दी गई बल्कि कहीं न कहीं ये भी सबके सामने आ गया कि आलाकमान की राजस्थान में नहीं चलती। उसके बाद सोनिया गांधी से माफी मांगकर खुद को बचा भी लिया। सोनिया गहलोत ने नाराज जरूर हैं, लेकिन गहलोत का कोई विकल्प कांग्रेस के पास नहीं है।

पर्यवेक्षक बनकर आए मल्लिकार्जुन खड़के और अजय माकन हैरान रह गए। बाद में सोनिया गांधी को रिपोर्ट सौंप दी, लेकिन इतना साफ हो गया कि अब सचिन पायलट को इस कार्यकाल में तो राजस्थान का सीएम बनाना उल्टा पड़ जाएगा। ऐसे में सवाल उठता है कि सचिन पायलट के पास अब क्या विकल्प बचे हैं।

सचिन पायलट कैंप की रणनीति, वेट एंड वॉच की है। पार्टी आलाकमान अब उन्हें राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष बनाकर फ्री हैंड खेलने का मौका दे सकता है। लेकिन अगर सरकार और पार्टी संगठन में टकराव हुआ तो फिर अगला चुनाव हारना वैले ही तय है, वैसे भी राजस्थान में हर बार जनता सरकार पलट देती है, ऐसे में कांग्रेस का हारना तय हो जाएगा। अगर सचिन ये रिस्क नहीं लेते हैं तो फिर केन्द्रीय संगठन में एडजस्ट हो सकते हैं, लेकिन वो मौका तो उनके पास हमेशा से था, फिर इतना हंगामा खड़ा करके पार्टी की फजीहत कराने की क्या जरूरत थी। सियासी पंडितों का मानना है कि सचिन पायलट एक बार फिर बीजेपी में जा सकते हैं, अगर उन्हें सीएम बनाने का भरोसा मिला तो। सचिन फैसला कोई भी लें, कांग्रेस आलाकमान की किरकिरी तो हो चुकी, साथ ही गहलोत जैसा भरोसेमंद भी खोना पड़ा।

 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: