शनिवार, 7 दिसम्बर 2019 | 12:31 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
हैदराबाद एनकाउंटर की संसद में गूंज, कांग्रेस बोली- वहां उड़ा दिया और उन्नाव में छोड़ रहे          पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि सीन रीकंस्ट्रक्शन के लिए जब उन्हें ले जाया गया था तब यह एनकाउंटर करना पड़ा          हैदराबाद गैंगरेप के चारों आरोपी शुक्रवार तड़के पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में मारे गए          भारतीय संसद का ऐतिहासिक फैसला,सांसदों ने सर्वसम्मति से लिया फैसला,कैंटीन में मिलने वाली खाद्य सब्सिडी को छोड़ देंगे           महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों पर भड़की जया बच्चन, कहा- यूपी में कहीं सुरक्षा नहीं हैं          60 साल की उम्र में सेवानिवृत्त करने पर फिलहाल सरकार का कोई विचार नहीं- जितेंद्र सिंह          सलामी बल्लेबाज शिखर धवन चोट के कारण वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज से बाहर हो गए हैं। उनकी जगह संजू सैमसन को मौका दिया गया है          महाराष्‍ट्र में उद्धव ठाकरे होंगे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री 28 नवंबर को लेंगे मुख्‍यमंत्री पद की शपथ           इसरो ने रचा इतिहास,कार्टोसैट-3 के अंतरिक्ष यान को सफलतापूर्वक कक्षा में किया स्थापित          महाराष्ट्र,शिवसेना को कोसते हुए सीएम देवेंद्र फडणवीस ने दिया इस्तीफा          अयोध्या में ही मस्जिद निर्माण के लिए दी जाएगी जमीन          सुप्रीम कोर्ट ने विवादित जमीन पर रामलला का हक माना          कोर्ट ने कहा कि पुरातत्व विभाग की खोज को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता          कोर्ट ने कहा,विवादित जमीन के नीचे एक ढांचा था और यह इस्लामिक ढांचा नहीं था          कोर्ट के फैसले में ASI का हवाला देते हुए कहा गया कि बाबरी मस्जिद का निर्माण किसी खाली जगह पर नहीं किया गया था          अयोध्या पर आया सुप्रीम कोर्ट का फैसला, बनेगा राम मंदिर, मस्जिद के लिए अलग जगह          मोदी सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली की अवैध कॉलोनियां होगी नियमित          पीओके से आए 5300 कश्मीरियों के लिए मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, मिलेंगे साढ़े पांच लाख रुपये          केंद्र सरकार ने 48 लाख कर्मचारियों को दिवाली से पहले दिया बड़ा तोहफा, 5 फीसदी बढ़ाया महंगाई भत्ता           देश के सबसे बड़ा सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक पब्लिक प्रॉविडेंट फंड पर सेविंग अकाउंट की तुलना में दे रहा है डबल ब्याज           पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल किया कि उनका देश कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिशों में नाकाम रहा          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          महाराष्ट्र, हरियाणा में 21 अक्टूबर को होगा विधानसभा चुनाव, 24 को आएंगे नतीजे          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | उत्तराखंड | उत्तराखंड में मंदाकिनी,अलकनंदा नदियां उफान पर घाट हुए जलमग्न

उत्तराखंड में मंदाकिनी,अलकनंदा नदियां उफान पर घाट हुए जलमग्न


पिछले तीन दिनों से पहाड़ी क्षेत्रों हो रही लगातार बारिश पहाड़ के लिए आफत बन गई है। बारिश के कारण नदी-नाले उफान पर आ गये हैं। जगह-जगह बरसाती गदेरे निकलने लगे हैं। नदियां खतरे के निशान के नजदीक बह रही हैं। बारिश का सितम अगर ऐसे ही रहा तो उत्तराखंड में आम जनता की दिक्कतें बढ़ सकती हैं। उत्तराखंड में अलकनंदा नदी और मंदाकिनी नदी भी उफान पर हैं। अलकनंदा नदी के उफान पर आने से नदी किनारे स्थित सभी स्नान घाट जलमग्न हो गये हैं। साथ ही नदी किनारे रह रहे लोगों को भी खतरा बन गया है।  केदारनाथ में भी तीन दिन लगातार हो रही बारिश के कारण यात्रा मार्ग पर व्यापार करने वाले व्यापारियों का व्यवसाय चौपट हो गया है। धाम में अब पाचं से एक हजार के बीच ही तीर्थयात्री आ रहे हैं। लगातार बारिश के कारण यात्रा पर बुरा असर देखने को मिल रहा है। व्यापारियों का कहना हैं कि हमेशा यात्रियों से गुलजार रहने वाला केदारनाथ पैदल यात्रा मार्ग यात्रियों के अभाव में वीरान नजर आ रहा है। पैदल मार्ग पर घोड़े-खच्चर नहीं चल रहे हैं। यात्रा में भारी कमी आने से यात्रा मार्ग पर व्यवसाय खासा नुकसान झेलना पड़ रहा है।  जिसके चलते हमारे व्यापारियों ने जो पैदल मार्ग पर दुकानें लगता थे.उन्होंने अपनी दुकाने भी हटा दी हैं। केदारनाथ पैदल यात्रा मार्ग के जंगलचटटी, छानी कैंप, बेस कैंप, लिनचैली में सन्नाटा पसरा हुआ है। 

 जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल का कहना है कि मानसून को देखते हुए प्रशासन स्तर पर तैयारियां पूरी की गई है। राष्ट्रीय राजमार्ग गौरीकुण्ड-रुद्रप्रयाग में 15 से ज्यादा मशीने तैनात की गई है, जबकि दूरस्थ ग्रामीण इलाकों में दो माह का राशन भेजा जा चुका है। उन्होंने कहा कि प्रभावित क्षेत्रों में एसडीआरएफ की टीम को भी तैनात किया गया है, जिससे कोई बड़ी घटना होने

प्रशासन की ओर से विभागों को अलर्ट पर रखा गया है। दूरस्थ क्षेत्रों में एसडीआरएफ की टीम को तैनात किया गया है, जिससे कोई भी परेशानी होनी पर शीघ्र पहुंचाई जा सके। 
पिछले कई दिनों से उत्तराखंड में लगातार बारिश हो रही है। बारिश से जगह-जगह भूस्खलन होना भी शुरू हो गया है। राष्ट्रीय राजमार्ग रुद्रप्रयाग-गौरीकुण्ड पर डेंजर जोन सक्रिय हो चुके हैं। इसके अलावा नदी-नाले और गाड़ गदेरे भी उफान पर आने लगे हैं। बारिश के कारण चमोली जिले और केदारघाटी में लगातार बारिश होने से अलकनंदा व मंदाकिनी नदी का जल स्तर बढ़ गया है, जिससे नदी किनारे नमामि गंगे योजना के तहत नवनिर्मित सभी स्नान एवं अन्य घाट पूर्ण रूप से जलमग्न हो गये हैं। नदी का बहाव इतना तेज है कि घाट के कुछ हिस्सों का कुछ पता ही नहीं है।

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मद्देनजर उत्तराखंड में अगले 1 हफ्ते तक लगातार मूसलाधार  बारिश हो सकती है। प्रदेश में पिछले 24 घंटों से रुक-रुक कर बारिश हो रही है। जिससे उत्तराखंड की राजधानी देहरादून समेत प्रदेश के कई जिलों में रहने वाले लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो चुका है। लगातार हो रही बारिश से जहां नालियां चोक हो चुकी हैं। वहीं कई स्थानों पर जलभराव की समस्याओं से भी दो-चार लोगों को होना पड़ रहा है



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: