सोमवार, 15 जुलाई 2024 | 03:57 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | रोजगार | 55 रुपये महीने जमा करो, तीन हज़ार की पेंशन पाओ

55 रुपये महीने जमा करो, तीन हज़ार की पेंशन पाओ


सरकारी कर्मचारियों को मिलने वाली ओल्ड पेंशन स्कीम 2005 के बाद बन्द कर दी गई थी। इससे साफ है कि 2005 के बाद भर्ती सरकारी कर्मचारियों को रिटायरमेंट के बाद पेंशन का लाभ नहीं मिलेगा। लेकिन सरकार ने अब किसानों और मजदूरों की सामाजिक सुरक्षा के लिए नई पेंशन स्कीम लांच की है, जिसका नाम है 'प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना.
प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना बुजुर्गों और छोटे/सीमांत किसानों को सामाजिक सुरक्षा देने के लिए बनाई गई है. यह एक स्वैच्छिक और अंशदायी पेंशन योजना है. इसके योजना के तहत 60 साल की उम्र तक पहुंचने के बाद प्रत्येक लाभार्थी को सरकार की तरफ से 3,000 रुपये पेंशन के रूप में दिए जाते हैं. इसके लिए किसानों को बस पीएम किसान मानधन में सीधे रजिस्ट्रेशन कराना होगा. यदि किसान की मृत्यु हो जाती है, तो किसान के पति/पत्नी परिवार पेंशन के रूप में पेंशन का 50% प्राप्त करने के हकदार होंगे यानी पति की मृत्यु हुई तो पत्नी को 1500 रुपये और पति की मृत्यु हुई तो पति को 1500 रुपये पेंशन हर महीने मिलेगी। बच्चे योजना के लाभार्थी के रूप में पात्र नहीं हैं. 
चलिए अब आपको समझा देते हैं कि इस योजना का लाभ कैसे उठा सकते हैं। केंद्र सरकार की इस योजना में 18 साल से 40 साल तक की उम्र का कोई भी किसान भाग ले सकता है, जिसे उम्र के हिसाब से हर महीने 55 रुपये से लेकर 200 रुपये तक, जमा करने होंगे। अगर उम्र कम है तो किश्त कम होगी, अगर उम्र 35 से 40 के बीच है तो किश्त दो सौ रुपये तक हो सकती है। साठ साल की उम्र होने पर इसी अंशदान से सरकार पूरी जिन्दगी 3000 रुपये पेंशन देगी। गांव के  जिन किसानो को इस योजना के बारे में पता चल रहा है, वे फौरन इसका फायदा उठा रहे हैं। लेकिन जागरुकता की कमी से बहुत से लोग अभी भी इसका लाभ नहीं उठा पा रहे हैं। अगर किसी किसान को रजिस्ट्रेशन प्रधानमंत्री सम्मान योजना में पहले से है, उसका रजिस्ट्रेशन आसानी से हो जाता है। उसका अंशदान भी किसान को मिलने वाले सालाना 6 हजार रुपये ही काट लिया जाएगा। इस तरह बिना कुछ जमा कराए भी इसका फायदा लिया जा सकता है। 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: