सोमवार, 8 अगस्त 2022 | 06:11 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
प. बंगाल: अर्पिता मुखर्जी के फ्लैट से 28.90 करोड़ रुपये और 5 किलो से ज्यादा सोना बरामद          उत्तराखंड में कोरोना के 334 नए मामले, 2 लोगों की मौत          1 से 4 अगस्त तक भारत दौरे पर रहेंगे मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम सोलिह          बंगाल शिक्षा घोटाला: पार्थ चटर्जी को मंत्री पद से हटाया गया           संसद में स्मृति ईरानी और सोनिया गांधी के बीच नोकझोंक           गुजरात: जहरीली शराब कांड में एक्शन, SP का तबादला, 2 डिप्टी SP सस्पेंड           दिल्ली में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 3 गिरफ्तार          पार्थ चटर्जी के घर में चोरी, लोग समझे ED का छापा पड़ा है          कर्नाटक में प्रवीण हत्याकांड में पुलिस ने अब तक 21 लोगों की हिरासत में लिया         
होम | लाइफस्टाइल | चार पहियों के बीच बंकर में चलते हैं मोदी,जानिए 5 बड़ी खासियत

चार पहियों के बीच बंकर में चलते हैं मोदी,जानिए 5 बड़ी खासियत


 कभी आपने सोचा है कि पूरे देश की रक्षा का ध्यान रखने वाले पीएम मोदी जब देश के दौरे पर होते हैं, तो उनकी सुरक्षा के क्या इंतजाम होते होंगे? वैसे तो उनकी एसपीजी सिक्योरिटी का लेवल बहुत ही हाई होता है लेकिन वो जिस गाड़ी में चलते हैं, उसके बारे में आपको बताते हैं। पीएम की सुरक्षा में शामिल एक खास गाड़ी जिसका नाम हैं मर्सिडीज़ मेबैक एस650। ये दुनिया की सबसे सुरक्षित कारों में से एक है।

 

ये कार खास तौर पर गोलियों की बौछार और बॉम्ब ब्लास्ट से बचने के लिए डिजाइन की गई है। यहां तक कि इस पर AK-47 जैसी राइफल की गोलियां भी बेअसर रहती हैं।  आपको बता दें कि पीएम जब कार में बैठे रहते हैं तो सिर्फ 2 मीटर की दूरी पर होने वाले 15 किलोग्राम तक के TNT विस्फोट से भी महफूज रह सकते हैं। क्योंकि इस कार में हाई लेवल सेफ्टी प्रोटेक्शन मिलता है। कार के विंडो ग्लास और बॉडी शेल इतने मजबूत हैं कि इस पर AK-47 जैसी राइफल की गोलियां भी बेअसर रहेंगी। कार की खिड़कियों पर पॉलीकार्बोनेट की परत होती हैं। इससे सुरक्षा की एक और लेयर मिलती है। गैस हमले की स्थिति में केबिन में हवा की आपूर्ति अलग से की जा सकती है।

 

वहीं साथ ही साथ गाड़ी में स्पेशल रन-फ्लैट टायर मिलते हैं। जिससे हमले के बाद टायरों के क्षतिग्रस्त होने की स्थिति में भी यह स्पीड पकड़ सकती है। कार के फ्यूल टैंक पर एक विशेष एलिमेंट की परत चढ़ाई गई है। जो गोली लगने से हुए छेद को ऑटोमैटिक तरीके से सील कर देता है। क्योंकि ये बोइंग AH-64, अपाचे टैंक अटैक हेलिकॉप्टरों में इस्तेमाल होने वाली खास तरह की सामग्री से बना होता है। आपको बता दें कि मर्सिडीज-मेबैक ने पिछले साल भारत में S600 गार्ड को 10.5 करोड़ रुपये में लॉन्च किया था और पीएम की गाड़ी की बात अगर करें तो S650 की कीमत लगभग 12 करोड़ रुपए से ज्यादा है।

 

पीएम मोदी की यह नई कार अत्‍याधुनिक सुरक्षा उपायों के बाद भी तूफानी रफ्तार से दौड़ सकती है। इसकी अधिकतम स्‍पीड 160 किमी प्रतिघंटा है। यही नहीं इस कार में खास टायर लगा है जो खराब होने या पंचर होने पर भी काम करता रहेगा और उसमें बैठा शख्‍स आसानी से दूसरी जगह पहुंच जाएगा। इस कार में 6 लीटर ट्विन-टर्बो वी12 इंजन लगा है जो इसे बेजोड़ ताकत देता है। कार में बेहद आरामदेह सीटें लगाई गई हैं जिससे पीएम मोदी बिना थके लंबी दूरी की यात्रा कर सकते हैं। यही नहीं सीटों को अडजस्‍ट भी किया जा सकता है। पीएम मोदी जब गुजरात के सीएम थे, उस समय वह महिंद्रा की बुलेटप्रूफ स्‍कॉर्पियो का इस्‍तेमाल करते थे। इसके बाद वह बीएमडब्‍ल्‍यू 7 सीरिज हाई सिक्‍यॉरिटी कार और उसके बाद लैंड रोवर रेंज रोवर कार से सफर करने लगे। पीएम मोदी को अक्‍सर वाराणसी की सड़कों पर लैंड रोवर के साथ घूमते हुए देखे गए हैं। हाल ही में राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद की भी कार को सुरक्षा कारणों से बदला गया था।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: