सोमवार, 8 अगस्त 2022 | 07:11 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
प. बंगाल: अर्पिता मुखर्जी के फ्लैट से 28.90 करोड़ रुपये और 5 किलो से ज्यादा सोना बरामद          उत्तराखंड में कोरोना के 334 नए मामले, 2 लोगों की मौत          1 से 4 अगस्त तक भारत दौरे पर रहेंगे मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम सोलिह          बंगाल शिक्षा घोटाला: पार्थ चटर्जी को मंत्री पद से हटाया गया           संसद में स्मृति ईरानी और सोनिया गांधी के बीच नोकझोंक           गुजरात: जहरीली शराब कांड में एक्शन, SP का तबादला, 2 डिप्टी SP सस्पेंड           दिल्ली में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 3 गिरफ्तार          पार्थ चटर्जी के घर में चोरी, लोग समझे ED का छापा पड़ा है          कर्नाटक में प्रवीण हत्याकांड में पुलिस ने अब तक 21 लोगों की हिरासत में लिया         
होम | विचार | इस देश के लोगों को पैसे देकर भी नहीं मिल रही शांति

इस देश के लोगों को पैसे देकर भी नहीं मिल रही शांति


लोग शांति के लिए क्या कुछ नही करते हैं?  लेकिन क्या हो जब पैसे देकर भी शांति न मिले तो, दुनिया का एक देश के लोगों का कुछ ऐसा ही हाल है। दक्षिण कोरिया से एक हैरान करने वाला सर्वे सामने आया है जहां लोग सिर्फ सुकून ढूंढ रहे हैं। इतना ही नहीं यह लोग जेल जाने के लिए भी तैयार हैं। इनसाइडर ने अपनी एक ऑनलाइन रिपोर्ट में इस सर्वे के बारे में विस्तार रूप से बताया है कि लोग रोजमर्रा की जीवनशैली से तंग आ चुके हैं और वे शांति ढूंढ रहे हैं। कुछ जगहों पर तो यह देखा गया कि शांतिप्रिय जगहों के लिए लोग पैसे भी चुका रहे। वे अपना मोबाइल तक बेचने के लिए तैयार हैं और अपना घर बार सब छोड़ देना चाहते हैं। 'वाशिंगटन पोस्ट' ने भी अपनी एक रिपोर्ट में इस बात की चर्चा करते हुए लिखा कि इस टर्म को वहां 'हिटिंग मंग कल्चर' का नाम दिया गया है, साथ ही रिपोर्ट में कई ऐसे तस्वीरें भी पोस्ट की गई हैं जिनमें लोग शांति के लिए बेचैन दिख रहे हैं। इस रिपोर्ट के सामने आने से हर कोई हैरान है। इसकी चर्चा मीडिया से लेकर सोशल मीडिया पर हो रही है।

 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: