रविवार, 23 फ़रवरी 2020 | 02:48 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
भारत बना रहा है नेवी के लिए नई हाईटेक क्रूज मिसाइल, जद में होगा पाकिस्‍तान          भारतीयों के स्विस खातों, काले धन के बारे में जानकारी देने से वित्त मंत्रालय ने किया इंकार          पीएम की कांग्रेस को खुली चुनौती,अगर साहस है तो ऐलान करें,पाकिस्तान के सभी नागरिकों को देंगे नागरिकता          नागरिकता संशोधन कानून पर जारी विरोध के बीच पीएम मोदी ने लोगों से बांटने वालों से दूर रहने की अपील की है          भारतीय संसद का ऐतिहासिक फैसला,सांसदों ने सर्वसम्मति से लिया फैसला,कैंटीन में मिलने वाली खाद्य सब्सिडी को छोड़ देंगे           60 साल की उम्र में सेवानिवृत्त करने पर फिलहाल सरकार का कोई विचार नहीं- जितेंद्र सिंह          मोदी सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली की अवैध कॉलोनियां होगी नियमित          पीओके से आए 5300 कश्मीरियों के लिए मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, मिलेंगे साढ़े पांच लाख रुपये          पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल किया कि उनका देश कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिशों में नाकाम रहा          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | क्राइम | मासूम जैनब की मौत से सुलग रहा पाकिस्तान

मासूम जैनब की मौत से सुलग रहा पाकिस्तान


16 दिसंबर 2012 की वो काली रात भारत कभी नही भूल पायेगा। इस दिन एक मासूम लड़की की इज्जत को चलती हुई बस में कुछ हवस के भूखों ने तार-तार कर दिया था। उनकी हवस का ये आलम था कि, निर्भया से हवस मिटाने के बाद उन्होने उसके प्राईवेट पार्ट में जिस तरह से रोड और बोतल डालीं।

 

इस दरिंदगी के बाद पूरे देश में जिस तरह से निर्भया को न्याय दिलाने के लिये आवाजे उठीं उसे भारत में आज तक कोई भी नही भूल पाया है। निर्भया भले ही इस दुनिया में न हो लेकिन उसको न्याय दिलाने वाली आवाजों को देश के साथ दुन्या कभी नही भील पायेगी।

 लेकिन हमारे पड़ोसी मुल्क को भी अब ऐसी ही न्याय के लिये उठती हुई आवोजं की जरूरत हैं जी हां हम बात कर रहे हैं। पाकिस्तान की

 

 

आपको बता दें चार फरवरी को पाकिस्तान के कसूर शहर में सात साल की जैनब अंसी कुरान क्लास के लिए जाते वक्त रास्ते से गायब हो गई थी, उसके कुछ दिन बाद जैनब का शव कचरे के ढेर में पड़ा मिला। शव पूरी तरह से नंगा था मामूम के साथ हुई दरिंदी उसके मासूम शरीब पर पड़े निशानों से बयां हो रही थी। इस घटना ने पूरे कसूर शहर को हिलाकर रख दिया और शहर में दंगा भड़क गया।

 

 

मासूम जैनब को आखिरी बार एक सीसीटीवी फुटेज में अज्ञात आदमी का हाथ पकड़ कर जाते हुए देखा गया। जैनब को इंसाफ दिलाने के लिए पाकिस्तान में ही नहीं बल्कि भारत और अन्य देशों में भी आवाज बुलंद होती दिखी हैं। सोशल मीडिया पर 'जस्टिस ऑर जैनब' हैशटैग से आक्रोशित लोग दुष्कर्मी की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। लेकिन अफसोस आरोपी की पहचान होने के बाद भी पुलिस उन्हें नहीं पकड़ पा रही है। लेकिन पूरे पाकिस्तान को इस मासूम निर्भया के न्याय का बेसर्बी से इंतजार

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: