शनिवार, 24 जुलाई 2021 | 10:25 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
सीएम पुष्कर धामी ने किया 179 करोड़ की 65 योजनाओं का लोकार्पण,शिलान्यास          मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने रुद्रपुर में अधिकारियों के साथ विकास कार्यों की समीक्षा          कोरोना महामारी के बीच ओलंपिक गेम्स हुए शुरू          सीएम पुष्कर धामी ने कोविड-19 से बचाव के लिये उच्चाधिकारियों एवं जिलाधिकारियों के साथ की समीक्षा          उत्तराखंड में कांग्रेस का सियासी संकट खत्म,हरीश रावत होंगे मुख्यमंत्री का चेहरा          कोरोना संक्रमण के चलते आर्थिक मंदी से जूझ रहे चारधाम यात्रा व पर्यटन को उभारे के लिए धामी सरकार की 200 करोड़ रूपए के आर्थिक पैकेज की घोषणा          प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के तहत उत्तराखंड में 240 लाभार्थियों को दिया गया आवास कब्जा          इसरो की सेटेलाइट से बच्चें करेंगे ऑन लाइन पढ़ाई         
होम | मनोरंजन | भारत में एक साल के लिए बैन हुआ मशहूर यूट्यूबर

भारत में एक साल के लिए बैन हुआ मशहूर यूट्यूबर


दुनिया के जाने माने यूटयूबर को भारत में एक साल तक के लिए बैन कर दिया गया है। जिसकी चर्चा हर तरफ हो रही है। मशहूर यूट्यूबर कार्ल एडवर्ड राइस उर्फ कार्ल रॉक ने आरोप लगाया कि उन्‍हें भारत में एंट्री करने से बैन कर दिया गया है। उन्‍होंने इसकी जानकारी देते हुए यूट्यूब पर एक वीडियो शेयर किया है। इसमें उन्‍होंने बताया है कि भारत सरकार ने उन्‍हें ब्‍लैकलिस्‍ट कर दिया है और देश में एंट्री पर प्रतिबंध लगा दिया है। वीजा नियमों के उल्लंघन करने के जुर्म में भारत सरकार ने न्यूजीलैंड के ब्लॉगर कार्ल रॉक को ब्लैकलिस्ट कर दिया है। रॉक यहां टूरिस्ट वीजा पर बिजनेस कर कर रहा था अब उसपर एक साल के लिए रोक लगा दी गई है और वीजा रद कर दिया गया है। यह जानकारी गृह मंत्रालय के अधिकारी ने न्यूज एजेंसी एएनआइ को दी। कार्ल रॉक की पत्‍नी मनीषा मलिक भारतीय हैं। वह दिल्‍ली में रहती हैं। मनीषा ने इस संबंध में दिल्‍ली हाईकोर्ट में याचिका दायर करके इस प्रतिबंध को चुनौती दी है। शुक्रवार को कार्ल रॉक ने यूट्यूब पर 'मैं क्‍यों अपनी पत्‍नी को 269 दिनों से नहीं देख पाया' नाम से वीडियो डाला और इसके पीछे का कारण उन्‍होंने भारत सरकार द्वारा उन्‍हें ब्‍लैकलिस्‍ट किया जाना बताया। इसके साथ ही कॉर्ल रॉक ने कहा कि मैं अपनी पत्नी मनीषा मलिक और परिवार से 269 दिनों से मिला नहीं हूं, मैंने अक्टूबर 2020 में दुबई पाकिस्तान की यात्रा करने के लिए भारत छोड़ा था, जाते समय एयरपोर्ट पर मेरा वीजा रद्द कर दिया गया। उन्होंने वीजा रद्द करने का कारण नहीं बताया, इसलिए दुबई में मैंने नए वीजा के लिए आवेदन किया। उन्होंने मुझे एक मीटिंग के लिए बुलाया और मुझे बताया कि मुझे ब्लैकलिस्ट में डाल दिया गया है, इसलिए वे मुझे घर जाने के लिए वीजा जारी नहीं कर सकते हैं। इस तरह कार्ल एडवर्ड हर तरफ चर्चा हो रही है। सरकार के इस फैसले से उनके फैंस को बड़ा झटका लगा है।

 

 

 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: