सोमवार, 22 जुलाई 2019 | 09:48 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
चांद पर चला चंद्रयान-2, ISRO ने फिर रच दिया इतिहास,देशभर में खुशी की लहर          81 साल की उम्र में शीला दीक्षित का निघन          शीला दीक्षित 15 साल तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं थी          दिल्ली की सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का दिल्ली में निधन          इसरो ने किया ऐलान, अब 22 जुलाई को लॉन्च होगा चंद्रयान-2          कुलभूषण जाधव मामले पर पीएम मोदी ने जताई खुशी कहा- ये सच्चाई और न्याय की जीत है          भारतीय वायुसेना के लिए गेम चेंजर साबित होगी राफेल-सुखोई की जोड़ी,एयर मार्शल भदौरिया          कुलभूषण जाधव केस, ICJ में भारत की बड़ी जीत, फांसी की सजा पर रोक, पाकिस्तान को सजा की समीक्षा का आदेश          गृह मंत्री अमित शाह का बड़ा बयान, कहा- सभी घुसपैठियों और अवैध प्रवासियों को करेंगे देश से बाहर          पीएम नरेंद्र मोदी सितंबर में अमेरिका जाएंगे, जहां भारतीय समुदाय के लोगों से उनकी मुलाकात हो सकती है। इस दौरान दुनिया के कई अन्‍य देशों के नेताओं से भी मुलाकात की संभावना है          भाजपा को 2016-18 के बीच 900 करोड़ रू से ज्यादा चंदा मिला, एडीआर की रिपोर्ट में आया सामने          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार          बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव ने किया तेज सेना का गठन           भ्रष्ट अफसरों को जबरन वीआरएस दिया जाए, ऐसे लोग नहीं चाहिए-योगी आदित्यनाथ         
होम | देश | चुनाव जीतने के बाद पहली बार वाराणसी पहुंच मोदी

चुनाव जीतने के बाद पहली बार वाराणसी पहुंच मोदी


 देश में बढ़ती राजनीतिक छुआछूत बहुत दुःखद है- नरेंद्र मोदी

 

लोक सभा चुनाव 2109  में प्रचंड जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे। मोदी ने यहां बाबा विश्वनाथ मंदिर में पूजा अर्चना की इसके बाद उन्‍होंने पं. दीनदयाल हस्तकला संकुल में भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। 'हर हर महादेव' के जयघोष के साथ मोदी ने कहा कि यह जीत पार्टी कार्यकर्ताओं की अथक परिश्रम का नतीजा है। लेकिन आज देश में राजनीतिक छुआछूत बढ़ती जा रही है। हमारे सैकड़ों कार्यकर्ता इसका शिकार हुए हैं और उनकी हत्‍याएं हुई हैं। यह बहुत ही दुःखद है। सबसे ज्यादा दुःखद तो यह हैं कि हमारी पार्टी का नाम लेते हुए राजनीतिक छूआछूत का माहोल जाता है। 

 

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि राजनीतिक विचारधारा के कारण कई राज्यों में हमारे सैकड़ों कार्यकर्ताओं की हत्याएं हुई हैं। पश्चिम बंगाल, केरल, त्रिपुरा और कश्मीर में हमारे कार्यकर्ताओं की राजनीतिक हत्याएं हुईं हैं। ऐसा लगता है कि इन जगहों पर हिंसा को मान्यता दे दी गई है। आज भी वहां भाजपा को अछूत समझा जाता है। हम लोकतंत्र में यकीन रखने वाले लोग है। 
जहां-जहां हमें सरकारें बनाने का मौका मिला है, हमने वहां विपक्ष की आवाज को महत्व दिया है, भले ही जनता के अविश्वास के कारण उनकी संख्या कम ही क्यों न हो। त्रिपुरा में 30 साल तक कम्युनिस्ट सरकार थी क्या वहां कोई विपक्ष था। हमें जब सत्ता मिलती है तो विपक्ष का शुरुआत होती है। 

  


प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज देश के राजनीतिक कैनवास पर ईमानदारी से रग-रग में लोकतंत्र को जीने वाला कोई दल है, तो वह भाजपा है। योग हो, रामायण सर्किट, बुद्ध सर्किट हो यह सब देश की महान विरासते हैं। उत्‍तर प्रदेश में पिछली सरकारों पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अयोध्या में दिवाली मनाने से किसने रोका था...?  प्रदेश में जब हमारी सरकार आई तो उसने दिवाली को भी भव्य बनाया। इस बार कुंभ की पहचान ही बदल गई। उत्‍तर प्रदेश की सरकार ने इस साल कुंभ का सफल आयोजन करके नागा साधुओं के झुंड वाले परसेप्शन को बदल दिया है। 


प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने वोट बैंक की राजनीति से ऊपर उठकर काम किया। हमने सबको साथ में लेकर चलने का काम किया। सवर्णों के लिए आरक्षण का प्रावधान इसी कोशिश का नतीजा है। विपक्ष पर हमला बोलते हुए पीएम ने कहा कि संसद का उपयोग चर्चा के लिए होना चाहिए, लेकिन जब विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं होता तो हंगामा करके वो संसद को रोकने की कोशिश करते हैं। हमारे इरादे नेक हैं। त्रिपुरा में कम्‍युनिस्ट सरकार के दौरान विपक्ष खत्‍म कर दिया गया था, लेकिन हमारी सरकार के आने के बाद अब यह बदला है। हम विभाजनकारी नहीं हैं,जो लोग खुद को एकता का ठेकेदार कहते हैं। उन्होंने आंध्र प्रदेश का विभाजन किया जहां आज तक शांति नहीं आ पाई है। 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: