रविवार, 24 जनवरी 2021 | 11:05 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | उत्तराखंड | मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने आवास विकास विभाग के तहत केन्द्र पोषित योजनाओं पर की चर्चा

मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने आवास विकास विभाग के तहत केन्द्र पोषित योजनाओं पर की चर्चा


मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने सोमवार को सचिवालय में आवास विकास विभाग से सम्बन्धित केन्द्र पोषित योजनाओं की समीक्षा की। आवास विभाग के तहत केन्द्र पोषित विभिन्न योजनाओं पर मुख्य सचिव ने विस्तार से चर्चा की। पीएम स्वनिधि योजना के तहत स्वीकृत आवेदन पत्रों के सापेक्ष स्वीकृत एप्लिकेशन का ऋण वितरण शीघ्र से शीघ्र किए जाने के निर्देश दिए।
बताया गया कि वर्तमान में उपस्थित 13004 वेंडर्स के सापेक्ष 12680 वेंडर्स के एप्लीकेशन अपलोड कर दिए गए हैं। बैंकों द्वारा 7859 के ऋण स्वीकृत कर लिए गए हैं, जिनमें से 5868 को ऋण वितरित कर दिया गया है। मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि फरवरी माह तक ऋण वितरण का कार्य पूर्ण कर लिया जाए। उन्होंने वेंडिंग जोन चिन्हीकरण का कार्य भी तेजी से किए जाने के निर्देश दिए। फ्लाई ओवर आदि के नीचे वेंडिंग जोन स्थापित किए जाने की सम्भावनाएं भी देखी जानी चाहिए।
स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छ सर्वेक्षण में बेस्ट परफोर्मिंग स्टेट में उत्तराखण्ड ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। बेस्ट सिटी इन मैक्सिमम सिटीजन पार्टीसिपेशन में नन्दप्रयाग को प्रथम रैंक एवं बेस्ट कंटोनमेंट बोर्ड इन मैक्सिमम सिटीजन पार्टीसिपेशन में अल्मोड़ा को प्रथम रैंक प्राप्त हुयी है। मुख्य सचिव ने सभी वार्ड में 100 प्रतिशत सोर्स सेग्रिगेशन पर फोकस करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि स्थानीय निकायों में लीगेसी वेस्ट निस्तारण पर भी तेजी से कार्यवाही की जाए।
बताया गया कि स्वयं सहायता समूहों को दिए जाने वाले रिवॉल्विंग फंड में टार्गेट 140 के सापेक्ष अचीवमेंट 356 है, जिसमें 249 को रिवॉल्विंग फंड ट्रांसफर कर दिया गया है। मुख्य सचिव ने कहा कि फरवरी माह तक 100 प्रतिशत रिवॉल्विंग फंड का भुगतान कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि स्वयं सहायता समूहों के उत्पादों को बाजार उपलब्ध कराने हेतु जैसे फ्लिपकार्ट और अमेजन जैसे ई-मार्केट को भी प्रोत्साहित किया जाना चाहिए। बताया गया कि फ्लिपकार्ट में स्वयं सहायता समूहों के 50 उत्पाद उपलब्ध हैं।
इस अवसर पर सचिव श्री शैलेष बगोली, प्रभारी सचिव श्री विनोद कुमार सुमन सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: