शुक्रवार, 3 फ़रवरी 2023 | 03:45 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | पर्यटन | जहरीली फली खाने से चार बच्चों की बिगड़ी तबियत, तीन मासूमों की मौत

जहरीली फली खाने से चार बच्चों की बिगड़ी तबियत, तीन मासूमों की मौत


हरिद्वार के बुग्गावाला थाना क्षेत्र के खानपुर वनरेंज में गुज्जरों के चार बच्चों ने ज़हरीले पौधे का सेवन कर लिया। पनवाड़ के पौधों के बीज खाने से तीन बच्चों की मौत हो गई, जबकि एक बच्चे की हालत नाजुक बताई जा रही है। बच्चे का उपचार मैक्स अस्पताल देहरादून में चल रहा है।

एसएसपी अजय सिंह द्वारा घटना को गभीरता से लेते हुए तत्काल इस संदर्भ में वन विभाग को सूचित किया गया और थाना स्तर पर ऐसे विषैले पौधों को नष्ट करने एवं प्रभावित परिवारों को जागरूक करने हेतु निर्देशित किया गया है।

बुग्गावाला थाना क्षेत्रांतर्गत के खानपुर वन रेंज स्थित वन गुर्जरों के डेरे हैं और वन गुर्जर हमेशा से भैंस पालन करके दूध का कारोबार करते हैं और यही पर इनके साथ वन गुर्जरों का परिवार रहता है। आज गुर्जरों के चार बच्चे शीबू ( 6) , साफिया ( 5) , आसिफा (5) खुले मैदान मे खेलने चले गए। वहां उन्होंने पनवाड़ के पौधों की फलियों से बीज निकाल खा लिए। पनवाड़ के बीजों का सेवन करने के बाद बच्चों की हालत बिगड़ने लगी। पता लगने पर घरवालों ने उनको इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया। डाक्टरों ने बच्चों की हालत को नाजुक देखते हुए उन्हें हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया, लेकिन उपचार के दौरान तीन बच्चों की मौत हो गई। बच्चे की हालत नाजुक बताई जा रही है। बच्चों की मौत से परिजनों पर गमों का पहाड़ टूट गया। इसके अलावा घटना को गभीरता बरता से लेते हुए एसएसपी हरिद्वार अजय सिंह ने पुलिस को आदेशित किया की पुलिस अभियान के तहत गुज्जरों के डेरों के आस-पास उगे पनवाड़ के पौधों को काटकर नष्ट किया जाए और गुज्जरों व उनके बच्चों को पनवाड़ के पौधे के बारे में जागरूक किया जाए। लोगों से भी अपील की है कि पनवाड़ के पौधे को डेरों के आस पास न उगने दें और अपने बच्चों को पनवाड़ के पौधों से दूर रखें, जिससे भविष्य में ऐसी घटना न हो सके। एसएसपी के निर्देश पर पुलिस ने गुर्जरों के डेरों के पास उगे पनवाड़ के पौधों को नष्ट किया है।

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: