शनिवार, 25 सितंबर 2021 | 09:40 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | खेल | राजीव गांधी नहीं अब मेजर ध्यानचंद के नाम से जाना जाएगा खेल रत्न

राजीव गांधी नहीं अब मेजर ध्यानचंद के नाम से जाना जाएगा खेल रत्न


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देश को बड़ी सौगात देते हुए खेल रत्न के नाम को बदलकर मेजर ध्यानचंद कर दिया है। इसकी जानकारी खुद पीएम मोदी के द्वारा दी गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज घोषणा की है कि राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड का नाम अब मेजर ध्यानचंद खेल रत्न अवॉर्ड होगा। पीएम मोदी ने कहा कि देशवासियों के आग्रह के बाद उन्होंने यह निर्णय लिया है। पीएम ने ट्विटर के जरिए यह ऐलान किया। यह अवॉर्ड देश का सबसे बड़ा खेल सम्मान है। पहली बार यह पुरस्कार 1991-92 में दिया गया था। पीएम ने ट्वीट करते हुए भी इसकी जानकारी सभी के साथ साझा भी की है।

पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'मेजर ध्यानचंद भारत के उन अग्रणी खिलाड़ियों में से थे जिन्होंने भारत के लिए सम्मान और गौरव लाया, लोगों की भावनाओं को देखते हुए, इसका नाम अब मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार किया जा रहा है'। पहले खेल रत्न पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार के नाम से जाना जाता था। भारतीय हॉकी के इतिहास में मेजर ध्यानचंद सबसे बड़े खिलाड़ी के तौर पर जाने जाते हैं। काफी समय से इस बात की भी चर्चा थी कि ध्यानचंद को भारत रत्न के खिताब से भी नवाजा जाए। मेजर ध्यानचंद को भारतीय हॉकी का जादूगर माना जाता है। इसलिए पीएम मोदी के द्वारा ये घोषणा की गई है। ये खबर मीडिया से लेकर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: