रविवार, 23 फ़रवरी 2020 | 02:05 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
भारत बना रहा है नेवी के लिए नई हाईटेक क्रूज मिसाइल, जद में होगा पाकिस्‍तान          भारतीयों के स्विस खातों, काले धन के बारे में जानकारी देने से वित्त मंत्रालय ने किया इंकार          पीएम की कांग्रेस को खुली चुनौती,अगर साहस है तो ऐलान करें,पाकिस्तान के सभी नागरिकों को देंगे नागरिकता          नागरिकता संशोधन कानून पर जारी विरोध के बीच पीएम मोदी ने लोगों से बांटने वालों से दूर रहने की अपील की है          भारतीय संसद का ऐतिहासिक फैसला,सांसदों ने सर्वसम्मति से लिया फैसला,कैंटीन में मिलने वाली खाद्य सब्सिडी को छोड़ देंगे           60 साल की उम्र में सेवानिवृत्त करने पर फिलहाल सरकार का कोई विचार नहीं- जितेंद्र सिंह          मोदी सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली की अवैध कॉलोनियां होगी नियमित          पीओके से आए 5300 कश्मीरियों के लिए मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, मिलेंगे साढ़े पांच लाख रुपये          पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल किया कि उनका देश कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिशों में नाकाम रहा          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | खेल | 25 नवंबर, 2019 से शुरू होगा खेल महाकुम्भ,खेल महाकुम्भ हेतु शुभंकर होगा कस्तूरी मृग

25 नवंबर, 2019 से शुरू होगा खेल महाकुम्भ,खेल महाकुम्भ हेतु शुभंकर होगा कस्तूरी मृग


खेल मंत्री अरविन्द पाण्डेय की अध्यक्षता में बुधवार को सचिवालय में ‘खेल महाकुम्भ 2019‘ हेतु गठित राज्य स्तरीय अनुश्रवण समिति की बैठक सम्पन्न हुई। खेल मंत्री श्री पाण्डेय ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि खेल महाकुम्भ में प्रतिभाग करने वाले सभी खिलाड़ियों को प्रमाण पत्र दिया जाए, ताकि खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाया जा सके। उन्होंने कहा कि खेल महाकुम्भ का उद्देश्य पूर्ण हो सके इसके लिए हर संभव प्रयास किए जाने चाहिए। गरीब प्रतिभाशाली बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए उनकी हर संभव सहायता की जाए। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाने के लिए राज्य स्तर पर सम्मानित किए जाने की भी संभावनाएं तलाश की जानी चाहिए, साथ ही पंचायत स्तर तक प्रतिभाएं तलाशने का कार्य लगातार किया जाए।

खेल मंत्री श्री पाण्डेय ने निर्देश दिए कि इस प्रतियोगिता में अधिक से अधिक खिलाड़ी प्रतिभाग कर सकें इसके लिए राज्य स्तर से पंचायत स्तर तक व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए। खेल महाकुम्भ अवधि के दौरान सभी खिलाड़ियों के रहने, खाने, फर्स्ट-एड आदि की उचित व्यवस्था की जाए। खिलाड़ियों की संख्या के अनुरूप टॉयलेट की व्यवस्था भी की जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश से बाहर अन्य खेलों में प्रतिभाग करने वाले खिलाड़ियों के ट्रैक सूट, जूते एवं किट की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।
बैठक के दौरान निर्णय लिया गया कि 25 नवंबर, 2019 से खेल महाकुम्भ शुरू होगा। खेल महाकुम्भ हेतु शुभंकर ‘कस्तूरी मृग‘ होगा। खेल महाकुंभ, 2019 का आयोजन क्रमशः न्याय पंचायत स्तर, ब्लाक स्तर, जिला स्तर तथा अन्त में राज्य स्तर पर किया जायेगा।
बैठक के दौरान सचिव खेल श्री बृजेश कुमार संत ने बताया गया कि खेल महाकुम्भ 2019 में इस वर्ष दो लाख से अधिक खिलाड़ियों द्वारा भाग लिया जायेगा। खेलों हेतु निर्धारित आयु वर्ग अंडर-12, अंडर-14, अंडर-17, अंडर-21 (सभी वर्गों में बालक-बालिका पृथक-पृथक), 21-25 आयु वर्ग हेतु महिला वर्ग तथा दिव्यांगजन रखे गये हैं। दिव्यांगजन के खेल आयोजन केवल राज्य स्तर पर होंगे। इसी प्रकार महिला वर्ग के खेल जिला एवं राज्य स्तर पर आयोजित होंगे। खेल महाकुम्भ में कुल 16 खेल प्रतियोगिताएं निर्धारित हैं जिनमें कबड्डी, एथलेटिक्स, खो-खो, वालीबाल, बैडमिंटन, फुटबाल, टेबल-टेनिस, ताईक्वांडो, बॉक्सिंग, जूडो, हैण्डबाल, बास्केटबाल, हॉकी, तैराकी, तीरंदाजी व तलवारबाजी शामिल हैं। खेल महाकुम्भ में तैराकी, तीरंदाजी व तलवारबाजी को प्रथम बार रखा गया है जिनका आयोजन राज्य स्तरीय खेल महाकुम्भ में अंडर-14 व अंडर-17 बालक-बालिका में किया जायेगा। दिव्यांगजन हेतु सीधे राज्य स्तर पर एथलेटिक्स, गोला फेंक, चक्का फेंक, भाला फेंक, लम्बी कूद व बैडमिंटन खेलों का आयोजन होगा।
इस अवसर पर अपर सचिव उदयराज सिंह,विनोद कुमार सुमन,प्रताप सिंह शाह, निदेशक शिक्षा आर.के.कुंवर एवं अपर निदेशक सूचना डॉ.अनिल चंदोला सहित सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: