सोमवार, 27 सितंबर 2021 | 03:46 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
प्रदेश में महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिये मुख्यमंत्री नारी सशक्तिकरण योजना का शुभारम्भ किया जाय          विश्व पर्यटन दिवस पर सीएम पुष्कर धामी ने प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं          भाजपा की महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष वानाती श्रीनिवासन ने कहा,पीएम मोदी के कार्यकाल में मातृशक्ति सबसे ज्यादा मजबूत हुई है          सीएम पुष्कर धामी हरिद्वार में ब्रह्मलीन वीतराग सन्त शिरोमणि स्वामी वामदेव जी महाराज की प्रतिमा का किया अनावरण          उत्तराखण्ड में भी होगा वन्दे भारत ट्रेन का संचालन          उत्तराखंड कैबिनेट का बड़ा फैसला,राज्य कर्मियों का महंगाई भत्ता 11 फीसद बढ़ा          चार धाम यात्रा के लिए अब तक 42 हजार तीर्थ यात्रियों ने किया रजिस्ट्रेशन          रक्तदान के लिए हर व्यक्ति को आगे आने की जरूरतः त्रिवेंद्र रावत          उत्तराखंड की चार धाम यात्रा से हटी रोक         
होम | सेहत | सांप के जहर से होगा कोरोना का इलाज

सांप के जहर से होगा कोरोना का इलाज


देश और दुनिया में मौत की तबाही मचा चुके कोरोना वायरस को रोकने की अभी तक कोई भी वैक्सीन नहीं बनी है। लेकिन कोरोना वायरस से बचने के लिए कई सारी दवाईयां बन चुकी है। इस बीच कोरोना का इलाज सांप के जहर से करने को लेकर एक नई और बड़ी खबर आयी है। ब्राजील के शोधकर्ताओं ने पाया कि एक प्रकार के सांप के जहर के एक अणु ने बंदर की कोशिकाओं में कोरोना वायरस को आगे बढ़ने से रोक दिया। इसे कोरोना वायरस का इलाज करने के लिए दवा की तरफ एक संभावित कदम के रूप में देखा जा रहा है। साइंस पत्रिका में छपी एक स्टडी के मुताबिक सांप के जहर के एक अणु ने बंदर की कोशिकाओं में कोरोना वायरस को आगे बढ़ने से रोक दिया जो 75 फीसदी गुना तेजी से फैल रहा था। साओ पाउलो विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और अध्ययन के लेखक राफेल गुइडो ने कहा कि सांप के जहर का यह घटक वायरस के एक बेहद महत्वपूर्ण प्रोटीन को रोकने में सक्षम पाया गया। साओ पाउलो विश्वविद्यालय के प्रोफेसर ने कहा, हमने पाया कि सांप के जहर का यह घटक कोरोना वायरस के महत्वपूर्ण प्रोटीन को बाधित करने में सक्षम था। स्टेट यूनिवर्सिटी ऑफ साओ पाउलो ने कहा कि रिसर्चर सांप के जहर के अणु की विभिन्न खुराक की दक्षता का मूल्यांकन करेंगे। वे यह जांच करेंगे कि क्या जहर का यह अणु कोरोना वायरस को कोशिकाओं में प्रवेश करने से रोकने में सक्षम है. संस्थान ने उम्मीद जताई कि रिसर्चर ह्यूमन सेल में भी इसका टेस्ट करेंगे। हालांकि उन्होंने इस संबंध में कोई टाइम लाइन नहीं बताई है। इस खबर के सामने आने से लोगों ने राहत की सांस ली है।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: