बुधवार, 12 अगस्त 2020 | 08:05 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
पीएम मोदी ने रखी राम मंदिर की नींव, देश भर में घर-घर दीप प्रज्ज्वलित कर मनाई जा रही है खुशियां          उत्तराखंड में भूमि पर महिलाओं को भी मिलेगा मालिकाना हक          सीएम रावत ने गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई को लिखा पत्र,उत्तराखंड में आइटी सेक्टर में निवेश करने का किया अनुरोध           कोरोना के चलते रद्द हुई अमरनाथ यात्रा,अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने रद्द करने का किया एलान           कोटद्वार में अतिवृष्टि से सड़क पर आया मलबा, बरसाती नाले में बही कार, चालक की मौत          चारधाम देवस्थानम बोर्ड मामले में उत्तराखंड सरकार को बड़ी राहत,सुब्रह्मण्यम स्वामी की याचिका हाईकोर्ट          प्रधानमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से की केदारनाथ के निर्माण कार्यों की समीक्षा, कहा धाम के अलौकिक स्वरूप में और भी वृद्धि होगी          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | मनोरंजन | मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया रमेश भट्ट के वीडियो गीत जै जै हो देवभूमि का लोकार्पण

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया रमेश भट्ट के वीडियो गीत जै जै हो देवभूमि का लोकार्पण


मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने  मुख्यमंत्री आवास में रमेश भट्ट द्वारा गाए उत्तराखंडी वीडियो गीत ‘जै जै हो देवभूमि’ को रिलीज किया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि सिर्फ 6 मिनट में देवभूमि उत्तराखण्ड की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत एवं नैसर्गिक प्राकृतिक सौन्दर्य को प्रस्तुत करने का प्रयास रमेश भट्ट ने अपने इस वीडियो गीत में किया है। उनका यह प्रयास उत्तराखण्ड को नई पहचान दिलाने में मददगार होगा। उन्होंने कहा कि इस वीडियो गीत के माध्यम हम समूचे उत्तराखण्ड का सिंहावलोकन कर सकते हैं। यह गीत प्राकृतिक सौन्दर्य एवं सांस्कृतिक विरासत व लोक संस्कृति को भी बढ़ावा देने में सहायक होगा। उनकी भावनायें उत्तराखण्ड से जुड़ी हैं, उनके इस गीत में गीत संगीत अभिनय की व्यापक झलक मिलती है। उन्होंने श्री भट्ट को बहुमुखी प्रतिभा का धनी बताते हुए राज्य के प्रति उनके लगाव एवं समर्पण की भी सराहना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज में छिपी प्रतिभाओं को निखारने तथा उन्हें अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित करने का अवसर प्रदान किये जाने के प्रयास किये जाने चाहिए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा जागर गायिका पद्म श्री बसंती बिष्ट, शिक्षक प्रोफेसर के.डी. सिंह आदि को सम्मानित भी किया गया।
विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेमचन्द अग्रवाल तथा सांसद अजय भट्ट ने भी रमेश भट्ट  के इस प्रयास की सराहना की। उन्होंने कहा कि हमारी लोक संस्कृति हमारी पहचान है। यह वीडियो देश व दुनिया के लोगों को उत्तराखण्ड आने का भी आमन्त्रण देता है।
इस मौके पर रमेश भट्ट के गुरू  के.डी.सिंह ने कहा कि इस अवसर पर उन्हें सम्मान देकर श्री भट्ट ने गुरू शिष्य परम्परा को जीवन्तता प्रदान की है। उन्होंने इस प्रयास को मिट्टी के ऋण से उऋण होने जैसा प्रयास बताया।
मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार  रमेश भट्ट ने कहा कि इस गीत में उत्तराखंड की सुंदरता के अद्भुत दृश्य दिखाने के प्रयास किये गये हैं। इसमें उत्तराखंड के उच्च हिमालयी चोटियों, आध्यात्मिक- धार्मिक स्थलों, सांस्कृतिक मेलों, पहाड़ की संस्कृति और जैव विविधता के दर्शन होंगे। इस गीत के बोल स्व. गोपाल बाबू गोस्वामी ने लिखे हैं। इस गीत को नए कलेवर में पेश करने का उन्होंने प्रयास किया है।
खचाखच भरे जनता दर्शन हॉल में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जैसे ही इस गीत को लॉन्च किया, वहां मौजूद हर शख्स इस गीत के बोल औऱ फिल्माए गए खूबसूरत दृश्यों पर मोहित हो उठे। आयोजन में उपस्थित सभी गणमान्य लोगों ने इस गीत के भूरि भूरि प्रशंसा की। शिल्पा प्रोडक्शन के बैनर तले बनाए गए इस गीत को रमेश भट्ट के यू ट्यूब  चैनल पर देखा जा सकता है। गीत को संजय कुमोला ने अपने संगीत से सजाया है। गीत का निर्देशन अरविंद नेगी तथा छायांकन संदीप कोठारी ने किया है।
इस अवसर पर उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत,विधायक मुन्ना सिंह चौहान, दिलीप सिंह रावत,मेयर ऋषिकेश  अनीता मंमगाई,चार धाम विकास परिषद् के उपाध्यक्ष पं0 शिव प्रसाद मंमगाई,उत्तराखण्ड संस्कृति साहित्य एवं कला परिषद् के उपाध्यक्ष घनानन्द सहित बड़ी संख्या में गणमान्य लोग उपस्थित थे।
 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: