सोमवार, 23 सितंबर 2019 | 09:21 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
सेंसेक्स के इतिहास में अब तक की सबसे बड़ी तेजी, 1 दिन में ही निवेशकों को 7 लाख करोड़ रुपए का फायदा          इंतजार खत्म- वायुसेना को मिला पहला राफेल फाइटर जेट, दिया गया नए वायुसेना प्रमुख का नाम          जीएसटी काउंसिल की बैठक: ऑटो सेक्टर को नहीं मिली राहत, होटल कमरों पर कम हुई टैक्स दर          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          मौत का एक्सप्रेस वे बना यमुना एक्सप्रेस वे, इस साल हादसों में गई 154 लोगों की जान          महाराष्ट्र, हरियाणा में 21 अक्टूबर को होगा विधानसभा चुनाव, 24 को आएंगे नतीजे          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | दुनिया | इस देश में 30 दिनों में सिर्फ 6 मिनट के लिए हुआ सूरज का दीदार

इस देश में 30 दिनों में सिर्फ 6 मिनट के लिए हुआ सूरज का दीदार


दुनिया में ठंड का कहर इस कदर जारी है कि हर कोई ठंड से परेशान है। कहीं धुंध ने परेशान कर रखा है तो कहीं नदियां पूरी तरह से जम चुकी हैं। बता दें, कि रूस में इस वर्ष सबसे ज्यादा ठंड पड़ रही है। जिसके कारण रूस की राजधानी मॉस्को में लोग ठंड से परेशान है आपको यह बात जानकर हैरानी होगी कि इस बार दिसंबर में मॉस्को में सिर्फ 6 से 7 मिनट के लिए ही सूरज निकला है, वैसे वहां दिसंबर के महीने में 18 घंटे के लिए सूरज निकलता है लेकिन इस बार मॉस्को के लोग सूरज के दीदार के लिए तरस रहे हैं। इससे पहले 2000 में दिसंबर में सबसे कम रोशनी हुई थी जो सिर्फ तीन घंट की लिए थी।

 


आपको बता दें, कि इतनी ठंड को देखते हुए लोकल पुलिस ने माता-पिता से अपने बच्चों को घर के अंदर ही रहने को कहा है। वही रूस के एक गांव में दुनिया की सबसे ज्यादा ठंड पड़ रही है, जहां की कुल आबादी 500 है, लेकिन यहां का तापमान -67 डिग्री तक पहुंच चुका है। बता दें, कि इस गांव का नाम ओइमाकॉन है जिसका मतलब होता है ऐसी जगह जहां पानी कभी नहीं जमता, लेकिन हालात इसके उलट है यहां पर पानी से साथ-साथ इंसान भी जम गया है। यहां के लोग अपना गुजर-बसर बड़ी मुश्किल से कर रहे हैं। 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: