बृहस्पतिवार, 17 अक्टूबर 2019 | 06:14 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
पीओके से आए 5300 कश्मीरियों के लिए मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, मिलेंगे साढ़े पांच लाख रुपये          कांग्रेस पार्टी का बड़ा एलान, जम्मू-कश्मीर में नहीं लड़ेंगे BDS चुनाव          केंद्र सरकार ने 48 लाख कर्मचारियों को दिवाली से पहले दिया बड़ा तोहफा, 5 फीसदी बढ़ाया महंगाई भत्ता           देश के सबसे बड़ा सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक पब्लिक प्रॉविडेंट फंड पर सेविंग अकाउंट की तुलना में दे रहा है डबल ब्याज           भारतीय सेना एलओसी पार करने से हिचकेगी नहीं,पाकिस्तान को आर्मी चीफ बिपिन रावत की चेतावनी          पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल किया कि उनका देश कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिशों में नाकाम रहा          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          महाराष्ट्र, हरियाणा में 21 अक्टूबर को होगा विधानसभा चुनाव, 24 को आएंगे नतीजे          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | दुनिया | इस देश में 30 दिनों में सिर्फ 6 मिनट के लिए हुआ सूरज का दीदार

इस देश में 30 दिनों में सिर्फ 6 मिनट के लिए हुआ सूरज का दीदार


दुनिया में ठंड का कहर इस कदर जारी है कि हर कोई ठंड से परेशान है। कहीं धुंध ने परेशान कर रखा है तो कहीं नदियां पूरी तरह से जम चुकी हैं। बता दें, कि रूस में इस वर्ष सबसे ज्यादा ठंड पड़ रही है। जिसके कारण रूस की राजधानी मॉस्को में लोग ठंड से परेशान है आपको यह बात जानकर हैरानी होगी कि इस बार दिसंबर में मॉस्को में सिर्फ 6 से 7 मिनट के लिए ही सूरज निकला है, वैसे वहां दिसंबर के महीने में 18 घंटे के लिए सूरज निकलता है लेकिन इस बार मॉस्को के लोग सूरज के दीदार के लिए तरस रहे हैं। इससे पहले 2000 में दिसंबर में सबसे कम रोशनी हुई थी जो सिर्फ तीन घंट की लिए थी।

 


आपको बता दें, कि इतनी ठंड को देखते हुए लोकल पुलिस ने माता-पिता से अपने बच्चों को घर के अंदर ही रहने को कहा है। वही रूस के एक गांव में दुनिया की सबसे ज्यादा ठंड पड़ रही है, जहां की कुल आबादी 500 है, लेकिन यहां का तापमान -67 डिग्री तक पहुंच चुका है। बता दें, कि इस गांव का नाम ओइमाकॉन है जिसका मतलब होता है ऐसी जगह जहां पानी कभी नहीं जमता, लेकिन हालात इसके उलट है यहां पर पानी से साथ-साथ इंसान भी जम गया है। यहां के लोग अपना गुजर-बसर बड़ी मुश्किल से कर रहे हैं। 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: