रविवार, 7 जून 2020 | 12:25 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | उत्तराखंड | कोरोना से ऐसे बचेगा उत्तराखंड?

कोरोना से ऐसे बचेगा उत्तराखंड?


दुनियाभर में जानलेवा कोरोना वायरस कहर बनकर टूट रहा है। जिसका असर अब बढ़ता ही जा रहा है। इस बीच भारत में भी कोरोना से निबटने की पूरी कोशिश की जा रही है। ऐसे उत्तराखंड सरकार ने संदिग्ध लोगों को संस्थागत क्वारंटाइन में रखने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी है। यही कारण है कि 29 मार्च तक जितने लोग संस्थागत क्वारंटाइन किए गए थे, उसमें 31 तारीख तक 430 फीसद का उछाल आ गया। अच्छी बात यह भी है कि संदेह के घेरे में आए इन लोगों को निगरानी में रखने में अधिकारियों ने जरा भी देर नहीं की। सोशल डेवलपमेंट फॉर कम्युनिटीज फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष अनूप नौटियाल ने स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों से बताया कि 29 मार्च तक 1818 लोगों को संस्थागत रूप से क्वारंटाइन में रखा गया था। वहीं, 31 मार्च को यह आंकड़ा 9650 को पार कर गया है। इतनी बड़ी संख्या में लोगों को सरकारी चिकित्सकों की निगरानी में रखना बेशक चुनौती का काम है, मगर सामाजिक सुरक्षा के लिहाज से यह बेहतर कदम है। हालांकि, जिस तरह से टोटल सैंपलिंग में 1.46 फीसद में ही कोरोना का संक्रमण पाया गया है, उससे लगता है कि क्वारंटाइन पर अधिक फोकस किए जाने का लाभ जरूर मिलेगा। और शासन प्रशासन इस गंभीर बीमारी से बचने के लिये पूरी कोशिश में लगा हुआ है।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: