रविवार, 27 सितंबर 2020 | 09:54 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
टाइम मैग्जीन ने जारी की दुनिया के 100 प्रभावशाली लोगों की लिस्ट,पीएम मोदी लिस्ट में इकलौते भारतीय ने          पीएम मोदी ने फिट इंडिया मूवमेंट के एक साल पूरा होने पर,बताए अपनी फिटनेस के सीक्रेट          डीआरडीओ को मिली बड़ी कामयाबी,अर्जुन टैंक से लेजर गाइडेड एंटी टैंक मिसाइल का सफल परीक्षण          ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर डीन जोन्स का मुंबई में दिल का दौरा पड़ने से निधन          पॉलिसी उल्लंघन के कारण गूगल ने पेटीएम को हटाया,पेटीएम ने कहा,पैसे हैं सुरक्षित          प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के किसानों को आश्वस्त किया कि लोकसभा से पारित कृषि सुधार संबंधी विधेयक उनके लिए रक्षा कवच का काम करेंगे           उत्तराखंड में भूमि पर महिलाओं को भी मिलेगा मालिकाना हक          सीएम रावत ने गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई को लिखा पत्र,उत्तराखंड में आइटी सेक्टर में निवेश करने का किया अनुरोध           कोरोना के चलते रद्द हुई अमरनाथ यात्रा,अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने रद्द करने का किया एलान           बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | उत्तराखंड | बदरीनाथ मार्ग सिंगटाली के पास चट्टान टूटने से बंद

बदरीनाथ मार्ग सिंगटाली के पास चट्टान टूटने से बंद


उत्तराखंड में इन दिनों ऑल वेदर रोड़ का काम चल रहा है। जिसके चलते रात के समय कटिंग का कार्य किया जा रहा है। सोमवार की रात्रि व्यासी और सिंगटाली के बीच कटिंग के दौरान एक भारी-भरकम चट्टान टूटकर मार्ग पर आ गई। जिससे मार्ग पूरी तरह से अवरुद्ध हो गया। 

मंगलवार सुबह ऋषिकेश से बदरीनाथ मार्ग पर जाने वाले वाहन यहां फंस गए। पुलिस ने तपोवन से वाहनों को लौटाना शुरू किया। जिसके बाद वाया चंबा-टिहरी वाहनों को भेजा जा रहा है। थाना प्रभारी निरीक्षक मुनि की रेती आरके सकलानी ने बताया कि बदरीनाथ मार्ग के जल्‍द खुलने की उम्मीद है। तब तक सभी वाहनों को वाया चंबा-टिहरी श्रीनगर के लिए भेजा जा रहा है।

पहाड़ दरकने से त्यूणी के मैंद्रथ गांव के पास भारी मात्रा में आए मलबे के कारण त्यूणी-पुरोला हाईवे रविवार सुबह सात घंटे बाधित रहा। हाईवे अवरुद्ध होने से दर्जनों वाहन बीच रास्ते में फंसे रहे। इससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। सूचना के बाद लोनिवि चकराता ने हाईवे से मलबा हटाने के लिए मौके पर जेसीबी भेजी तब जाकर मार्ग को किसी तरह यातायात के लिए खोला गया। हाईवे खुलने से घंटों बीच रास्ते में फंसे लोगों ने राहत की सांस ली।  सीमांत क्षेत्र के त्यूणी तहसील, चकराता, विकासनगर, देहरादून, मसूरी, जिला उत्तरकाशी के बंगाण क्षेत्र, आराकोट, मोरी, पुरोला, नौगांव, बड़कोट व हिमाचल के रोहडू, शिमला, नेरवा समेत अन्य शहर को जोड़ने वाले त्यूणी-हनोल-पुरोला हाईवे रविवार को मलबा आने से फिर बंद हो गया। हाईवे सुबह पांच बजे से 11 बजे तक बंद रहा। हाईवे अवरुद्ध होने से मैंद्रथ के पास सड़क के दोनों वाहनों की लंबी कतार लग गई। इससे सिद्धपीठ श्री महासू देवता मंदिर हनोल समेत अन्य जगह आने-जाने वाले कई वाहन बीच रास्ते में फंसे रहे। 

 

 

 

 

 

 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: