सोमवार, 15 जुलाई 2024 | 05:43 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | पर्यटन | विंटर वैकेशंस के लिए उत्तराखण्ड में उमड़े सैलानी, हर तरफ जाम

विंटर वैकेशंस के लिए उत्तराखण्ड में उमड़े सैलानी, हर तरफ जाम


नैनीताल/देहरादून: विंटर वोकेशंस शुरू होते ही सैलानियों ने उत्तराखंड का रुख करना शुरू कर दिया है। वीकेंड पर क्रिसमस की छुट्टी मनाने के लिए स्थानीय लोगों के साथ ही अन्य प्रदेशों के पर्यटक भी पहुंचे हैं। शनिवार से आ रहे पर्यटकों के कारण जहां तमाम हिल स्टेशनों के होटल, लॉज और होम स्टे फुल हैं तो वहीं सड़कें भी वाहनों के कारण पैक हो रखी हैं। हर तरफ जाम की स्थिति और वाहन रेंग-रेंग कर चल रहे हैं।
नए साल से पहले ही उत्तराखंड में क्रिसमस के मौके पर सैलानियों का जमावड़ा लग गया है। पर्यटन स्थल सैलानियों से गुलजार हो रहे हैं। उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, मध्य प्रदेश और अन्य राज्य से बड़ी संख्या में पर्यटक उत्तराखंड पहुंच रहे हैं। सैलानियों का सैलाब उमड़ता देख कारोबारियों के चेहरे भी खिलने लगे हैं, लेकिन सड़कों पर वाहनों के कारण बुरी स्थिति है।
सोमवार को क्रिसमस की छुट्टी होने के चलते शुक्रवार की शाम से ही पर्यटकों की आवाजाही होने लगी थी। वीकेंड को खास बनाने के लिए अन्य राज्यों के पर्यटकों के साथ ही स्थानीय लोग भी पर्यटन स्थलों का रुख कर रहे हैं। मसूरी, चकराता, नैनीताल, ऋषिकेश और अल्मोड़ा में जहां होटल, रिसॉर्ट, होमस्टे, लॉज आदि फुल हो गए हैं। वहीं, भारी संख्या में पर्यटकों के आने से जाम की स्थिति भी बनी हुई है।
सुबह से शाम तक वाहन रेंगते हुए नजर आ रहे हैं। मसूरी में क्रिसमस का जश्न मनाने के लिए पर्यटक बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं। जिसके चलते होटल भी एडवांस बुकिंग पर फुल हो चुके हैं। बिना बुकिंग के आने वाले पर्यटकों को भारी परेशानी उठानी पड़ रही है। वीकेंड पर मसूरी में 80 फीसदी और क्रिसमस के लिए लगभग 50 फीसदी होटल पैक हो गए हैं। शहर में बड़ी संख्या में पर्यटकों के आने से ट्रैफिक जाम की स्थिति बनी हुई है। मसूरी में ट्रैफिक को लेकर हर साल समस्या खड़ी हो जाती है और तमाम दावों के बावजूद जाम से मुक्ति दिलाने में पुलिस प्रशासन नाकामयाब रहता है।
नैनीताल पर्यटकों से गुलजार है। सड़कों पर वाहनों का दबाव बढ़ने से दिनभर कई बार यातायात प्रभावित हो रहा है। वाहनों की लगातार आने से तल्लीताल, मल्लीताल और माल रोड पर गाड़ियां रेंग रही हैं। जिसकी वजह से पर्यटकों के साथ ही स्थानीय लोगों को भी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। होटल की बुकिंग कराए बिना आने वाले पर्यटकों को अस्थायी पार्किंग स्थलों पर ही रोका गया। चकराता में भी कुछ इसी तरह के हालात नजर आ रहे हैं। होटल, रिसॉर्ट संचालकों के साथ ही स्थानीय व्यापारी सैलानियों के भारी संख्या में आने पर खुश नजर आए। बड़ी संख्या में पर्यटकों के आने से पर्यटक स्थल पैक हैं, लेकिन जाम की स्थिति ने लोगों के घूमने का मजा खराब कर दिया।
ऋषिकेश में शिवपुरी, तपोवन और स्वर्गाश्रम क्षेत्र में क्रिसमस और नए साल की तैयारी को लेकर कैंपिंग साइट पूरी तरह से तैयार हैं। रिसॉर्ट में भी पूरी तैयारी है। इन स्थानों पर जश्न मनाने के लिए दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान के करीब 70 प्रतिशत लोगों ने एडवांस ऑनलाइन बुकिंग की है। इसके साथी लोग धार्मिक पर्यटन के लिए भी उत्तराखंड पहुंच रहे हैं। हरिद्वार-ऋषिकेश में धर्मस्थलों में पूजा पाठ करने दर्शन करने के लिए बड़ी संख्या में पर्यटक आ रहे हैं तो वहीं नैनीताल के कैंची धाम में भी छुट्टी के चलते भारी संख्या में श्रद्धालु बाबा के दर्शन करने पहुंच रहे हैं।

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: