बृहस्पतिवार, 6 अक्टूबर 2022 | 08:05 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | सेहत | उत्तराखंड के बच्चों में डेंगू जैसी संक्रामक बीमारी फैली, बुखार के साथ गले में दर्द

उत्तराखंड के बच्चों में डेंगू जैसी संक्रामक बीमारी फैली, बुखार के साथ गले में दर्द


उत्तराखंड में डेंगू के बढ़ते मामलों के बीच एक और संक्रामक  बीमारी ने हल्ला बोल दिया है। हैंड फुट माउथ डिजीज यानी HFMD नामकी ये बीमारी बच्चों को अपना शिकार बना रही है। आमतौर पर दस साल तक बच्चों में इस बीमारी के लक्षण दिख रहे हैं। राहत की बात ये है कि इस बीमारी से 6-7 दिनों में बच्चे ठीक हो जाते हैं। सरकार ने गाइडलाइंस जारी कर दी है।

डॉक्टर्स के मुताबिक जब बच्चों को तेज बुखार के साथ खाना निगलने में दिक्कत हो, मुंह के भीतर और बाहर दाने और छाले निकलें और हाथ-पैरों पर भी फफोले वाले जाने  हों और गले में दर्द हो तो समझिए बच्चे में इस बीमारी का संक्रमण फैल गया है।

डॉक्टरों का कहना है कि इस बीमारी के लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। यह बीमारी फैल सकती है इसलिए बच्चों को घर पर ही रखें. इस बीमारी से 6-7 दिनों में बच्चे ठीक हो जाते हैं. बच्चों को तरल पदार्थ और फल जरूर दें. डॉक्टरों का कहना है कि ये वायरल डिजीज है, ये एक तरीके की नई बीमारी आई है. एचएफएमडी बीमारी के इलाज के लिए अभी ज्यादा जानकारी भी नहीं है, लेकिन समय पर डॉक्टर को दिखाकर इसके इंफेक्शन को रोका जा सकता है.

 

वहीं प्रभारी स्वास्थ्य सचिव ने भी इस बीमारी की बढ़ती आशंका को देखते हुए अस्पतालों में पुख्ता इंतजाम करने की बात कही है. प्रभारी सचिव स्वास्थ्य ने बताया कि इसपर स्वास्थ्य विभाग लगातार नजर बनाए हुए है. अभी तक देहरादून में पांच ऐसी बीमारी के केस आ चुके हैं.

इन दिनों उत्तराखंड में डेंगू के मामले बढ़ने से पहले ही चिंता बनी हुई है. इसी बीच फैल रही एचएफएमडी बीमारी से चिंता और बढ़ गई है. जहां एक ओर स्वास्थ्य विभाग इसको लेकर खुद को तैयार बता रहा है, उससे ज्यादा जरूरी है कि आप स्वयं अपने बच्चों की देखभाल करें और बीमारी से बचने के तरीकों को अपनाएं, साथ ही ऐसे लक्षण पाये जाने पर डॉक्टर की सलाह जरूर लें.



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: