बृहस्पतिवार, 17 अक्टूबर 2019 | 02:11 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
पीओके से आए 5300 कश्मीरियों के लिए मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, मिलेंगे साढ़े पांच लाख रुपये          कांग्रेस पार्टी का बड़ा एलान, जम्मू-कश्मीर में नहीं लड़ेंगे BDS चुनाव          केंद्र सरकार ने 48 लाख कर्मचारियों को दिवाली से पहले दिया बड़ा तोहफा, 5 फीसदी बढ़ाया महंगाई भत्ता           देश के सबसे बड़ा सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक पब्लिक प्रॉविडेंट फंड पर सेविंग अकाउंट की तुलना में दे रहा है डबल ब्याज           भारतीय सेना एलओसी पार करने से हिचकेगी नहीं,पाकिस्तान को आर्मी चीफ बिपिन रावत की चेतावनी          पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल किया कि उनका देश कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिशों में नाकाम रहा          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          महाराष्ट्र, हरियाणा में 21 अक्टूबर को होगा विधानसभा चुनाव, 24 को आएंगे नतीजे          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | क्राइम | उत्तराखंड में नशे का कारोबार करने वालों पर लगेगा गुंडा एक्ट

उत्तराखंड में नशे का कारोबार करने वालों पर लगेगा गुंडा एक्ट


उत्तराखंड पुलिस नशे के खिलाफ बड़ा अभियान शुरू करने वाली है। हरिद्वार पहुंचे एडीजी लॉन आर्डर अशोक कुमार ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि उत्तराखंड पुलिस राज्य में नशे को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेगी। नशे का कारोबार करने वाले लोगों पर गुंडा एक्ट और गैंगस्टर जैसी बड़ी कार्यवाही की जाएगी। आशोक कुमार ने बताया कि उत्तराखंड पुलिस द्वारा एक मोबाइल नंबर भी जारी किया है। इस नंबर पर कोई भी व्यक्ति नशे का कारोबार करने वाले खिलाफ अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है। वहीं उन्होंने आगामी कुंभ मेले में पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था करने की बात कही। अशोक कुमार ने कहा कि उत्तराखंड पुलिस आगामी 2021 कुंभ मेले के लिए प्रतिबद्ध है। कुम्भ मेले तैयारी उन्होंने अभी से शुरू कर दी है। आईजी कुंभ और एसएसपी कुंभ की नियुक्ति कर दी गई है। आगामी जनवरी तक हरिद्वार में पहले चरण की पुलिस फोर्स की तैनाती हो जाएगी। कुम्भ मेले में लगभग 25000 सुरक्षाकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। जिसमें केंद्र और राज्य के सुरक्षाकर्मि शामिल रहेंगे। लगभग सात चरणों में फोर्स की तैनाती की जाएगी। बाकी चरणों की तैनाती 2020 के कांवड़ मेले के बाद की जाएगी।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: