सोमवार, 8 अगस्त 2022 | 07:29 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
प. बंगाल: अर्पिता मुखर्जी के फ्लैट से 28.90 करोड़ रुपये और 5 किलो से ज्यादा सोना बरामद          उत्तराखंड में कोरोना के 334 नए मामले, 2 लोगों की मौत          1 से 4 अगस्त तक भारत दौरे पर रहेंगे मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम सोलिह          बंगाल शिक्षा घोटाला: पार्थ चटर्जी को मंत्री पद से हटाया गया           संसद में स्मृति ईरानी और सोनिया गांधी के बीच नोकझोंक           गुजरात: जहरीली शराब कांड में एक्शन, SP का तबादला, 2 डिप्टी SP सस्पेंड           दिल्ली में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 3 गिरफ्तार          पार्थ चटर्जी के घर में चोरी, लोग समझे ED का छापा पड़ा है          कर्नाटक में प्रवीण हत्याकांड में पुलिस ने अब तक 21 लोगों की हिरासत में लिया         
होम | उत्तराखंड | उत्तराखंड में शिक्षकों के तबादलों पर सरकार ने लगाई रोक

उत्तराखंड में शिक्षकों के तबादलों पर सरकार ने लगाई रोक


उत्‍तराखंड में चुनाव आचार संहिता लागू होने से ठीक पहले और इस दौरान बड़ी संख्या में सरकार ने अफसरों और शिक्षकों के तबादले के आदेश जारी किए थे। जिसके बाद उत्तराखंड कांग्रेस और तमाम दूसरे विपक्षी दलों ने इन तबादलों को लेकर सरकार की घेराबंदी भी की,कांग्रेस की ओर से पूर्व सीएम हरीश रावत ने सरकार पर आचार संहिता के उल्लंघन के गंभीर आरोप लगाए थे।

 

चुनाव आचार संहिता लागू होने से पहले उत्तराखंड में हुए इन ताबड़तोड़ तबादलों पर फिहलाह सरकार ने रोक लगा दी है। चुनाव आचार संहिता लागू होने पहले किए गए बेसिक व माध्यमिक के शिक्षकों, प्रधानाध्यापकों,प्रधानाचार्यों और शिक्षाधिकारियों के स्थानांतरण पर सरकार ने यह कहते हुए रोक लगा दी हैं कि चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद कार्यमुक्ति एवं कार्यभार ग्रहण करने की प्रक्रिया अब नहीं होगी। शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम ने इस संबंध में आदेश जारी किए है।

आपको बता दें कि बीती 8 जनवरी से राज्य में चुनाव आचार संहिता लागू हो चुकी है। इस बीच आचार संहिता लागू होने से ठीक पहले सरकार ने बाल संरक्षण आयोग,महिला आयोग,बदरीनाथ केदार मंदिर समिति,किसान आयोग,शिक्षा विभाग,सहकारिता विभाग में बड़ी संख्या में तबादले किए थे। साथ ही आबकारी कमिश्नर बदलने और ऊर्जा विभाग में की गई नियुक्ती,ट्रांसफर और प्रमोशन किए थे। जिसको लेकर लगातार सवाल उठाए जा रहे थे।

इस सब के बीच तबादला आदेश के बाद शिक्षकों,अफसरों की नई तैनाती पर रोक लगी है। शिक्षा सचिव आर.मीनाक्षी सुंदरम की ओर से आदेश जारी किया गया कि राज्य में चुनाव आचार सहिंता लागू होने से अब शिक्षक,अफसर पदभार ग्रहण नही कर पाएंगे। इस आदेश के तह्त कहा गया हैं कि 8 जनवरी तक कार्यभार ग्रहण न करने वाले शिक्षकों और अधिकारियों के कार्यमुक्त होने पर रोक लगा दी गई है।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: