मंगलवार, 20 अप्रैल 2021 | 10:26 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
कोरोना से बिगडे़ हालात: एक दिन में 2.16 लाख नए मामले, 1184 मौतें और 15 लाख सक्रिय केस          शिक्षा मंत्री का एलान, देशभर में दसवीं की परीक्षाएं रद्द व बारहवीं की स्थगित          अमेरिकी सांसद ने उड़ाए इमरान के होश, बोले-आतंकियों को आसरा देता है पाकिस्तान          यूएई के प्रधानमंत्री बने ब्रिटेन के सबसे बड़े जमींदार, खरीदी एक लाख एकड़ जमीन          हरिद्वार-दो अखाड़ों ने की कुंभ समापन की घोषणा, नाराज संत बोले-अपनी अवधि तक चलेगा मेला          गीतकार पंडित किरण मिश्र का निधन, 67 की उम्र में ली अंतिम सांस          केदारनाथ धाम के पत्थरों से तैयार किए गए 10 हजार शिवलिंग, घर ले जा सकेंगे तीर्थयात्री          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | सेहत | पिथौरागढ़ के जौलीजीबी में हंस फाउंडेशन के आयोजित किया निःशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर

पिथौरागढ़ के जौलीजीबी में हंस फाउंडेशन के आयोजित किया निःशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर


रविवार को भारत-नेपाल सीमा पर स्थित जौलजीबी पिथौरागढ़ में उत्तराखंड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पिथौरागढ़ की ओर से बहुउद्देश्यीय विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर आयोजित किया गया। जिसका शुभारंभ उच्च न्यायालय के न्यायाधीश एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यपालक मनोज तिवारी ने किया।

 

इस बहुउद्देश्यीय विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर में हंस फाउंडेशन ने जौलीजीबी की दूरगामी क्षेत्रों में रह रहे जरूरतमंदों,दिव्यांगों और ग्रामीणों को स्वास्थ्य संबंधित उपकरण,व्हील चेयर,मास्क निःशुल्क दवाइयों सहित जरुरत का समाना प्रदान किया गया। इस शिविर में माताश्री मंगला जी एवं श्री भोले जी महाराज के आशीष से दिव्यांगजनों को व्हील चेयर एवं शिविर में शामिल हुए ग्रामीणों को मास्क,चश्मे, कान की मशीनें, कंबल, शॉल एवं दवाइयां प्रदान की गई। जिसके लिए जौलीजीबी के ग्रामीणों ने हंस फाउंडेशन का आभार व्यक्त किया।

 

इस मौके पर उच्च न्यायालय के न्यायाधीश एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यपालक मनोज तिवारी ने कहा कि प्रत्येक नागरिक का अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होना जरूरी है। जागरूक व्यक्ति ही अपने अधिकारों की रक्षा आसानी से कर सकता है। इसी तरह से हम सब को आज अपने  स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होना है। यह इस लिए भी महत्वपूर्ण है कि वर्तमान  समय में हम सब जानते है कि हम कोरोना महामारी जैसे बीमारी से जूझ रहे हैं। श्री तिवारी ने कहा कि इस संक्रमण काल में देश भर में बहुत सी संस्थाएं ऐसी है जो जरूरतमंद लोगों को सहयोग प्रदान कर रही है। जिसमें हंस फाउंडेशन का नाम अग्रीम पंक्ति आता है। जो पहाड़ और पूरे भारत में सेवा के कार्यों को निस्वार्थ भाव से कर रहे हैं।

 

आपको बता दें कि हंस फाउंडेशन माताश्री मंगला जी एवं श्री भोले जी महाराज जी सानिध्य में भारत के 27 राज्यों में स्वास्थ्य-शिक्षा से लेकर तमाम सेवाओं को लेकर कार्य कर रहा है।

हरिद्वार में चल रहे महाकुंभ में हंस फाउंडेशन के तत्वावधान में नेत्र कुंभ का आयोजन किया गया है। जिसमें प्रतिदिन हजारों लोगों की आंखों की निःशुल्क जांच की जा रही है, साथ ही चश्मे वितरित किए जा रहे हैं। इसी के साथ कोरोना संक्रमण से बचने हेतु कुंभ स्नान को लेकर हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं को रक्षा कवच के तौर पर मास्क प्रदान किए जा रहे हैं। इस मौके पर उपस्थित उत्तराखंड राज्य प्राविधिक सेवा प्राधिकरण के सदस्य सचिव राजीव कुमार खुल्बे ने प्राधिकरण और विधिक सेवाओं की जानकारी देते हुए सभी का आभार व्यक्त किया। शिविर में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं जिला जज डॉ.जीके शर्मा,बार संघ के अध्यक्ष मोहन चंद्र भट्ट, सीडीओ अनुराधा पाल, डॉ. दीप चौधरी,सीजेएम सुधीर कुमार,एडीएम आरडी पालीवाल, ब्लॉक प्रमुख धारचूला धन सिंह धामी, एसडीएम केएन गोस्वामी एवं सीएमओ एचसी पंत आदि मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन सिविल जज सीनियर डिवीजन एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव मनोज कुमार द्विवेदी ने किया।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: