रविवार, 27 सितंबर 2020 | 10:08 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
टाइम मैग्जीन ने जारी की दुनिया के 100 प्रभावशाली लोगों की लिस्ट,पीएम मोदी लिस्ट में इकलौते भारतीय ने          पीएम मोदी ने फिट इंडिया मूवमेंट के एक साल पूरा होने पर,बताए अपनी फिटनेस के सीक्रेट          डीआरडीओ को मिली बड़ी कामयाबी,अर्जुन टैंक से लेजर गाइडेड एंटी टैंक मिसाइल का सफल परीक्षण          ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर डीन जोन्स का मुंबई में दिल का दौरा पड़ने से निधन          पॉलिसी उल्लंघन के कारण गूगल ने पेटीएम को हटाया,पेटीएम ने कहा,पैसे हैं सुरक्षित          प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के किसानों को आश्वस्त किया कि लोकसभा से पारित कृषि सुधार संबंधी विधेयक उनके लिए रक्षा कवच का काम करेंगे           उत्तराखंड में भूमि पर महिलाओं को भी मिलेगा मालिकाना हक          सीएम रावत ने गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई को लिखा पत्र,उत्तराखंड में आइटी सेक्टर में निवेश करने का किया अनुरोध           कोरोना के चलते रद्द हुई अमरनाथ यात्रा,अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने रद्द करने का किया एलान           बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | उत्तराखंड | उत्तराखंड में फायर सीजन से पहले ही नंदा देवी नेशनल पार्क के जंगलों में लगी भयंकर आग

उत्तराखंड में फायर सीजन से पहले ही नंदा देवी नेशनल पार्क के जंगलों में लगी भयंकर आग


गर्मियों के मौसम में अकसर देवभूमि उत्तराखंड के जंगलों में आग लग जाती है। लेकिन स बार गर्मियों से पहले ही आग लग गई है जिससे करोड़ों की संपदा जलकर खाक हो गई है। आज सुबह नंदा देवी नेशनल पार्क के उर्गम वन पंचायत के धार तोक के जंगल में भीषण आग लग गई। आग में कई हेक्टेयर वन भूमि जलकर राख हो गई। ग्रामीणों का कहना है कि उनके जंगलों में लगातार आग लगी हुई है जंगली जानवर इधर से उधर भाग रहे हैं। हरे-भरे पेड़ पौधे जलकर राख हो रहे हैं, लेकिन वन विभाग आग बुझाने में नाकाम साबित हो रहा है। वहीं लगातार जंगलों में आग लगने से धुआं भी फैल रहा है जिससे लोगों को सांस लेने में दिक्कत हो रही है। जोशीमठ विकासखंड के अलग-अलग जंगलों में इन दिनों भीषण आग लगी हुई है जिससे जंगल धू-धू कर जल रहे हैं। इससे लगातार वन संपदा को भारी नुकसान पहुंच रहा है। हालात ये हैं कि वन विभाग अभी तक आग पर काबू नहीं पा सका है। वन  क्षेत्र अधकारी धीरेंद्र विष्ट का कहना है कि विभाग के छह कर्मचारी मौके पर आग बुझाने में लगे हुए हैं। जल्द से जल्द आग को बुझाने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है। लोगों का कहना है कि हर साल पहाड़ों में आग लगने से लाखों की वन संपदा जलकर राख होती है। लेकिन विभाग इस ओर कोई भी ठोस कदम नहीं उठा पाता है। खबर के साथ-साथ आग केफैसलतेही हर तरफ अफरा तफरी मच गई।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: