बृहस्पतिवार, 8 दिसम्बर 2022 | 04:46 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | मनोरंजन | कल बॉक्स ऑफिस पर मचेगा तहलका, 10 फिल्मों की टक्कर, कांतारा को लेकर केजीएफ-2 जैसा क्रेज

कल बॉक्स ऑफिस पर मचेगा तहलका, 10 फिल्मों की टक्कर, कांतारा को लेकर केजीएफ-2 जैसा क्रेज


आयुष्मान खुराना की फिल्म 'डॉक्टर जी' के अलावा परिणीति चोपड़ा की 'कोड नेम तिरंगा' सहित 10 फिल्में कल रिलीज हो रही हैं। इनमें 'कांतारा' (हिंदी) भी एक बड़ी रिलीज है, जिसने IMDB रेटिंग में 'केजीएफ 2', 'आरआरआर' जैसी फिल्मों को पछाड़ दिया है. ऋषभ शेट्टी ने 'कांतारा' को न सिर्फ डायरेक्ट किया है, बल्कि इसमें मुख्य भूमिका भी निभाई है. फिल्म का हिंदी वर्जन आज रिलीज होगा. जो फिल्में रिलीज हो रही हैं, उनके बारे में भी जान लीजिए।

 

डॉक्टर जी: आयुष्मान खुराना अपनी 'ऑफ बीट' फिल्मों के लिए मशहूर हैं. उन्होंने इस बार भी ऐसे विषय को छुआ है, जिस पर आमतौर पर लोग बात करने पर झिझकते हैं. वे 'डॉक्टर जी' में उदय गुप्ता के रोल में हैं जो बनना तो चाहते हैं आर्थोपेडिक्स के विशेषज्ञ, पर बन जाते हैं गाइनाकोलॉजिस्ट. फिल्म में रकुल प्रीत सिंह उनकी क्लासमेंट फातिमा सिद्दीकी के रोल में हैं, जबकि शेफाली शाह उनकी बॉस नंदिनी श्रीवास्तव बनी हैं जो उन्हें 'मेल टच' खोने के लिए कहती हैं. उदय गुप्ता स्त्री रोग विभाग में एकमात्र मेल स्टूडेंट हैं. ऐसे में वे किस तरह की मुश्किलों का सामना करते हैं, वह दर्शकों के लिए देखना वाकई में मजेदार होगा. फिल्म का निर्देशन अनुभूति कश्यप ने किया है.

कोड नेम तिरंगा: यह जासूसी थ्रिलर कई देशों में एक घातक मिशन को अंजाम दे रही रॉ एजेंट दुर्गा सिंह की कहानी बयां करता है. यह रोल परिणीति चोपड़ा ने निभाया है. वे खूंखार आतंकवादी खालिद उमर (शरद केलकर) को पकड़ने की कोशिश करती दिखाई देंगी. फिल्म में हार्डी संधू भी हैं, जो उनके लवर के रोल में हैं. फिल्म का निर्देशन रिभु दासगुप्ता ने किया है.

कांतारा: इस एक्शन थ्रिलर में शिवा (ऋषभ शेट्टी) नाम के कंबाला चैंपियन की कहानी को दिखाया गया है, जिसकी भिड़ंत एक ईमानदार वन अधिकारी मुरली (किशोर) से होती है. ईमानदार अधिकारी चाहता है कि जंगल की जमीन लोगों से अछूती रहे. हालांकि, शिवा पूजा के सालाना अनुष्ठान को जंगल में करने के लिए अड़ा हुआ है. लेकिन, इस फिल्म में सिर्फ पारंपरिक मान्यताएं ही विवाद की जड़ नहीं हैं, जंगल की लकड़ी की तस्करी से जुड़ी एक गहरी साजिश भी रची जा रही है. फिल्म का निर्देशन ऋषभ शेट्टी ने किया है.

ऐ जिंदगी: यह फिल्म सच्ची घटना से प्रेरित बताई जा रही है, जो एक ऐसे शख्स की कहानी को बयां करती है जो एक कंप्यूटर इंजीनियर है और लीवर सिरोसिस से पीड़ित है. वह लखनऊ से हैदराबाद एक ऑर्गन डोनेशन काउंसलर रेवती रंजन से मिलने जाता है. एक लिवर डोनर से मिलकर उसकी आशाओं को पंख लग जाते हैं, लेकिन चीजें उम्मीद के मुताबिक नहीं होतीं. आखिर में, उसे उम्मीद की एक किरण नजर आती है. फिल्म का निर्देशन अनिर्बान बोस ने किया है.

मोदी जी की बेटी: यह कॉमेडी फिल्म दो आतंकवादियों की कहानी है, जो अपनी क्षमता साबित करने की कोशिश कर रहे हैं. वे प्रधानमंत्री की बेटी की मौजूदगी की फर्जी खबरों पर यकीन करते हैं और एक लड़की का अपहरण कर लेते हैं. वे फिर लड़की को उसके देश वापस भेजने की कोशिश करते हैं, जिसकी वजह से उन्हें अजीब हालातों का सामना करना पड़ता है. फिल्म का निर्देशन एडी सिंह ने किया है.

कहानी रबड़बैंड की: फिल्म में दो युवाओं आकाश और काव्या की जिंदगी को दिखाया गया है. काव्या अनजाने में प्रेग्नेंट हो जाती हैं, जिससे उनके सपने चकनाचूर हो जाते हैं. इसके बाद, आकाश 'वी केयर कंडोम मैन्युफैक्चरर' के खिलाफ शिकायत करता है, ताकि लोग जागरूक बनें और काव्या के साथ उसका रिश्ता बेहतर हो जाए. फिल्म में प्रतीक गांधी और गौरव गेरा जैसे कलाकार हैं. फिल्म को सारिका संजोत ने डायरेक्ट किया है.

मिड डे मील: फिल्म एक 5 स्टार होटल में काम करने वाले शेफ के संघर्ष को दिखाती है, जो गांवों के बच्चों के लिए काम करता है. फिल्म में दिखाया गया है कि जब उनकी निजी जिंदगी में परेशानियां आती हैं, तब वे अपने सपने को पाने के लिए किस तरह का संघर्ष करते हैं. फिल्म को अनिल सिंह ने डायरेक्ट किया है. फिल्म में रणवीर शौरी लीड रोल में हैं.

लव यू लोकतंत्र: यह फिल्म भारतीय राजनीति पर एक व्यंग्य है, जिसे अभय निहलानी ने निर्देशित किया है. फिल्म में ईशा कोपिकर ने भी अभिनय किया है.

जग्गू की लालटेन: इस फिल्म में एक व्यापारी और चाय की दुकान चलाने वाले जग मोहन की कहानी को दिखाया गया है जो एक पुरानी लालटेन से काफी पैसा कमा लेते हैं. फिल्म विपिन कपूर ने डायरेक्ट की है.

करतूत: यह फिल्म एक ऐसी लड़की की कहानी है जो गरीब परिवार से ताल्लुक रखती है, जिसकी शादी एक अमीर घराने के लड़के से हो जाती है. दोनों की जिंदगी में सबकुछ ठीक नहीं रहता. फिल्म को अनिल दत्त ने डायरेक्ट किया है और मदालसा शर्मा और पियूष रानाडे ने लीड रोल निभाया है.

 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: