शुक्रवार, 10 जुलाई 2020 | 10:52 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | क्राइम | पकड़ा गया उत्तराखंड पौड़ी जिले के राठ क्षेत्र के दो युवाओं को टक्कर मारने वाला कैंटर ड्राइवर

पकड़ा गया उत्तराखंड पौड़ी जिले के राठ क्षेत्र के दो युवाओं को टक्कर मारने वाला कैंटर ड्राइवर


गुरुग्राम में दिल्ली बॉर्डर के पास एक अज्ञात गाड़ी द्वारा सड़क पर पैदल चल रहे उत्तराखंड के तीन नौजवानों को कुचलने वाले कैंटर ड्राइवर को आखिरकार थाना पालम विहार गुरूग्राम पुलिस ने पकड़ लिया है। जिस ट्रक से इन व्यक्ति इन इन नौजवानों को टक्कर मारी थी पुलिस ने उस  कैंटर टाटा-407 को  भी पुलिस ने कब्जे में ले लिया है।

इस दुःखद घटना के बाद उत्तराखंड के तमाम सामाजिक संगठनों और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने हरियाण सरकार पर इस घटना को अंज़ाम देने वाले व्यक्ति को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने का दवाब बनाया था। जिसके बाद गुरूग्राम पुलिस टीम द्वारा कड़ी मेहनत व CCTV कैमरों की पुटेज की गहनता से अवलोकन करने बाद इस कैंटर चालक को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना हैं कि इस पूरे मामले को लेकर अब कैंटर चालक से पूछताछ की जा रही है। जिसके बाद इस मामले पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

आपको बता दें कि उत्तराखंड में पौड़ी जिले के राठ क्षेत्र के दो युवाओं की हरियाणा के गुरुग्राम में सरहौल बॉर्डर पर हुए सड़क हादसे में मौत हो गई थी। जबकि उनका एक साथी गंभीर रूप से घायल हो गया था। जिसका दिल्ली के लेडिहार्डिंग अस्पताल इलाज चल रहा है।

यह युवक पौड़ी गढ़वाल के राठ के ढाजूली पट्टी के रहने वाले है। मृतकों में रमेश सिंह नेगी,पुत्र गमाल सिंह नेगी,ग्राम,कुठ,पट्टी ढाजूली,वीर सिंह पंवार,पुत्र भगत सिंह पंवार,ग्राम,कठूड़ और घायल नरेंद्र सिंह नेगी,पुत्र सालकी सिंह नेगी,ग्राम घुलेक शामिल है। इस बारे में पहले खबर आई थी कि इन युवाओं पर किसी ने हमला किया है। पौड़ी गढ़वाल के कुठ गांव निवासी रमेश सिंह (23 वर्ष), कठूड़ गांव निवासी वीर सिंह (22) और सलोन गांव निवासी नरेंद्र सिंह गुरुग्राम में एमजीएफ मॉल स्थित एंपायर क्लब में बतौर कुक की नौकरी करते थे।

अब देखने वाली बात यह होगी कि इस घटना को अंजाम देने वाले इस कैंटर चालक पर पुलिस किन धाराओं में मुकदमा दर्ज करती है और इस कितनी सज़ा मिलती है।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: