रविवार, 22 सितंबर 2019 | 01:48 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
सेंसेक्स के इतिहास में अब तक की सबसे बड़ी तेजी, 1 दिन में ही निवेशकों को 7 लाख करोड़ रुपए का फायदा          इंतजार खत्म- वायुसेना को मिला पहला राफेल फाइटर जेट, दिया गया नए वायुसेना प्रमुख का नाम          जीएसटी काउंसिल की बैठक: ऑटो सेक्टर को नहीं मिली राहत, होटल कमरों पर कम हुई टैक्स दर          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          मौत का एक्सप्रेस वे बना यमुना एक्सप्रेस वे, इस साल हादसों में गई 154 लोगों की जान          महाराष्ट्र, हरियाणा में 21 अक्टूबर को होगा विधानसभा चुनाव, 24 को आएंगे नतीजे          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | सेहत | क्या आपको भी रात को नीद नहीं आती!

क्या आपको भी रात को नीद नहीं आती!


मंजू रूधियाल

 

रात को अच्छी नींद नहीं आने के कई कारण हो सकते हैं। वर्कलोड, टेंशन, पैसे की तंगी या इसी तरह की दूसरी कई परेशानियां  नींद पूरी ना होने के कारण स्वास्थ्य से जुड़ी तकलीफें भी बढ़ जाती हैं। नींद की कमी की वजह से वजन बढ़ता है, हाई बीपी की समस्या हो सकती है, यहां तक की दिल से जुड़ी बीमारियां होने का भी खतरा बढ़ जाता है। पर क्या आप जानते हैं कई बार हमारे खानपान की वजह से भी हमारी नींद प्रभावित होती है? हमें अच्छी नींद आएगी या नहीं यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि हमने डिनर में क्या खाया है। ऐसे में अगर आपको भी रात में अच्छी नींद चाहिए तो सोने से पहले इन चीजों का सेवन न करें.......
 
ऐल्कॉहॉल
हमारे शरीर के सिस्टम में जाकर पचने में ऐल्कॉहॉल को काफी वक्त लगता है। यही वजह से है कि रात में ड्रिंक करके सोने के बाद बीच रात में अक्सर लोगों की नींद कई बार खुल जाती है। इतना ही नहीं, ऐल्कॉहॉल का सेवन करने के बाद सोने से आपकी नींद की क्वॉलिटी भी प्रभावित होती है।
 
कॉफी या चाय
कॉफी या फिर चाय पीने का असर हमारे दिमाग पर पड़ता है। कैफीन की मात्रा वाली किसी भी चीज के सेवन से नींद पर असर पड़ता है। कैफीन का असर उसे पीने के 3-4 घंटे तक रहता है।
 
स्पाइसी खाना
रात के समय बहुत स्पाइसी खाना नहीं खाना चाहिए। इससे जलन और गैस की प्रॉब्लम हो सकती है। ऑस्ट्रेलिया में हुई एक स्टडी के मुताबिक, जिन युवाओं और पुरुषों ने अपने रात के डिनर में स्पाइसी सॉस का इस्तेमाल किया उन्हें नींद आने और गहरी नींद में सोने में मुश्किल हुई, उन युवाओं की तुलना में जिन्होंने बिना मसाले वाला डिनर किया।
 
मीट
मीट में उच्च मात्रा में फैट और प्रोटीन होते हैं जिन्हें पचने में काफी समय लगता है और हमारे पाचन तंत्र पर दबाव बढ़ जाता है। ऐसे में शरीर का पूरा ध्यान नींद की बजाए मीट को पचाने में लग जाता है और आप रातभर बेचैन हो सकते हैं।
 
जंक फूड
मीट की ही तरह जंक फूड में भी उच्च मात्रा में सैचुरेटेड फैट होता है और इसे भी पचाने में काफी समय लगता है जिससे आपकी नींद प्रभावित हो सकती है। लिहाजा सोने से पहले जंक फूड का सेवन करने से बचें।


तो ये थे नीद से जुड़े कुछ फायदे………………

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: