सोमवार, 21 सितंबर 2020 | 02:14 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
कोरोना के बीच 19 सिंतबर से IPL का आगाज, मुंबई और चेन्नई के बीच होगा उद्घाटन मुकाबला          पॉलिसी उल्लंघन के कारण गूगल ने पेटीएम को हटाया,पेटीएम ने कहा,पैसे हैं सुरक्षित          प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के किसानों को आश्वस्त किया कि लोकसभा से पारित कृषि सुधार संबंधी विधेयक उनके लिए रक्षा कवच का काम करेंगे           उत्तराखंड में भूमि पर महिलाओं को भी मिलेगा मालिकाना हक          सीएम रावत ने गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई को लिखा पत्र,उत्तराखंड में आइटी सेक्टर में निवेश करने का किया अनुरोध           कोरोना के चलते रद्द हुई अमरनाथ यात्रा,अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने रद्द करने का किया एलान           बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | देश | दिल्ली की हिंसा रोकने के लिये अजीत डोभाल ने संभाला मोर्चा

दिल्ली की हिंसा रोकने के लिये अजीत डोभाल ने संभाला मोर्चा


दिल्ली में छिड़ी हिंसा ने अब तक 20 से ज्यादा लोगों की जान ले ली है। और अरबों की संपत्ति खाकर के रख दी है। इतना ही नहीं पिछले तीन दिन में दिल्ली ने वो देखा जिसकी कल्पना किसी ने की भी न हो। लगातार बिगड़ते हालातों को देखते हुए केंद्र सरकार ने मोर्चा संभालते हुए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार(एनएसए) अजित डोभाल को दिल्ली हिंसा को नियंत्रित करने की जिम्मेदारी सौंप दी गई है। वह प्रधानमंत्री और कैबिनेट को दिल्ली के हालात के बारे में जानकारी देंगे। डोभाल ने कल रात जाफराबाद, सीलमपुर और उत्तर-पूर्वी दिल्ली के अन्य इलाकों का दौरा किया था। वहां उन्होंने विभिन्न समुदायों के नेताओं से भी बातचीत की थी। डोभाल ने यह स्पष्ट कर दिया है कि अब राजधानी में कानून व्यवस्था की कोई कमी नहीं होगी। पर्याप्त संख्या में पुलिस और अर्धसैनिक बलों की तैनाती कर दी गई है। पुलिस को स्थिति नियंत्रण के लिए खुली छूट दे दी गई है।

नागरिकता संशोधन कानून  और एनआरसी को लेकर उत्तर पूर्वी दिल्ली के कुछ इलाकों में मंगलवार को फिर हिंसा भड़क गई, जहां उपद्रवियों ने पथराव किया, दुकानों में तोड़फोड़, फायरिंग और आगजनी की। कई इलाकों में हालात बेकाबू हो गए, जिसके बाद पुलिस ने उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदेश दिया। डोभाल ने इलाके में मौजूदा हालात के बारे में पुलिस से जानकारी ली। डोभाल ने करीब एक घंटे अधिकारियों के साथ बैठक की। और दिल्ली की हालते को कंट्रोल करने के लिए नीति तैयार की। दिल्ली हिंसा को लेकर पुलिस पर कई सवाल उठ रहे हैं। बेहरहाल अब दिल्ली की स्थिति सामान्य बताई जा रही है।  



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: