बृहस्पतिवार, 29 अक्टूबर 2020 | 07:03 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
मन की बात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की देशवासियों से अपील,सैनिक के नाम जलाएं एक दीया          विजयदशमी के पावन पर्व पर बद्री-केदार,गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट बंद होने की तिथि का ऐलान          स्वास्थ्य मंत्रालय की देश वासियों से अपील,त्योहारों के मौसम में कोरोना को लेकर बरतें सावधानी          दिवाली से पहले केंद्रीय कर्मचारियों को मोदी सरकार का तोहफा,3737 करोड़ रुपये के बोनस का भुगतान तुरंत           भारत दौरे से पहले अमेरिकी रक्षा मंत्री का बड़ा बयान लद्दाख में चीन भारत पर डाल रहा है सैन्‍य दबाव          उत्तराखंड में चिन्हित रेलवे क्रॉसिंगों पर 50 प्रतिशत धनराशि केन्द्रीय सड़क अवस्थापना निधि से की जाएगी          उत्तराखंड में भूमि पर महिलाओं को भी मिलेगा मालिकाना हक          सीएम रावत ने गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई को लिखा पत्र,उत्तराखंड में आइटी सेक्टर में निवेश करने का किया अनुरोध           कोरोना के चलते रद्द हुई अमरनाथ यात्रा,अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने रद्द करने का किया एलान           बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | उत्तराखंड | देहरादून में बुजुर्गों की सुरक्षा के लिये उठाया गया बड़ा कदम..

देहरादून में बुजुर्गों की सुरक्षा के लिये उठाया गया बड़ा कदम..


बुजुर्गों की सुरक्षा और उनकी देखभाल के लिये हम सभी कई सारी बातें करते हैं और अपने स्तर से उनकी मदद भी करते हैं। लेकिन अब देवभूमि उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में बुजुर्गों की सुरक्षा के लिये बड़ा कदम उठाया गया है।

हरिद्वार में बुजुर्ग दंपती की हत्या की वारदात ने समाज से लेकर पुलिस तक को बड़ा सबक दिया है। यही वजह है कि देहरादून पुलिस बुजुर्गों की सुरक्षा को लेकर नए सिरे से कार्ययोजना तैयार करने में जुट गई है। डीआइजी अरुण मोहन जोशी ने कहा है कि सभी थानेदार अपने क्षेत्र में रहने वाले बुजुर्ग व्यक्तियों की लिस्ट को अपडेट रखने के साथ उनसे नियमित अंतराल पर संवाद भी करते रहेंगे। उनकी मदद करेंगे, जिससे समाज मे यह संदेश जाए कि वह अकेले नहीं, बल्कि पुलिस उनके साथ है।

हरिद्वार में एक बुजुर्ग दंपती की घर में घुसकर हत्या करने से शांति एवं कानून वयवस्था प्रभावित हुई है। इसके दृष्टिगत जनपद में भी अलर्ट रहने की आवश्यकता है। अपने-अपने एरिया में सभी बुजुर्गों को चिह्नित कर उनकी सूची तैयार कर उनको सुरक्षा प्रदान करने के लिए कदम उठाएं। प्रत्येक थाना प्रभारी को थाने के सीनियर सिटीजन रजिस्टर को अपडेट करते हुए सीनियर सिटिजन से लगातार संपर्क बनाए रखेंगे। थाने की सभी चीता को प्रत्येक दिन अपने अपने एरिया के बुजुर्ग व्यक्तियों को चिह्नित करेगी। अगर वह अकेले निवास कर रहे हैं तो उनका संपर्क नंबर लेकर उनसे लगातार संपर्क करते रहेंगे।

वरिष्ठ नागरिक यदि आर्थिक रूप से सक्षम हैं तो उन्हें अपने यहां सीसीटीवी कैमरे लगवाने के लिए प्रेरित करेंगे। इस तरह देहरादून में बुजुर्गों की मदद की जाएगी और उन्हें सुरक्षा दी जाएगी।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: