सोमवार, 20 मई 2024 | 01:59 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | पर्यटन | केदारनाथ धाम को प्लास्टिक कचरा मुक्त करने का अभियान, रिसाइकिल तकनीक पर अमल

केदारनाथ धाम को प्लास्टिक कचरा मुक्त करने का अभियान, रिसाइकिल तकनीक पर अमल


रुद्रप्रयाग जिले में प्राकृतिक खूबसूरती से भरपूर केदारनाथ धाम में प्रतिवर्ष लाखों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं जो अपने साथ प्लास्टिक और कचरा लेकर आते हैं जिससे धाम की पवित्रता खराब होती है. जिसके निराकरण के लिए उत्तराखंड सरकार ने जिला प्रशासन रुद्रप्रयाग और जेएसडब्ल्यू फाउंडेशन के साथ मिलकर एक संयुक्त पहल शुरू की है. जिसका कार्यान्वयन रिसाइकल तकनीक से अनुभूति वेलफेयर फाउंडेशन करेगा.
रुद्रप्रयाग के उप जिला मजिस्ट्रेट, जितेंद्र वर्मा ने कहा कि ‘स्वच्छ केदारनाथ’ परियोजना, रुद्रप्रयाग के विकास के लिए एक बड़ा कदम है. क्योंकि वे केदारनाथ में शून्य कचरा स्थिति हासिल कर स्थाई रूप से इस पवित्र धाम को सुंदर बनाने की दिशा में काम कर रहे हैं. केदारनाथ की प्राकृतिक चुनौतियों का सामना करते हुए इस परियोजना को चलाने के लिए जो प्रयास किए जा रहे हैं, उनकी वजह से जिला प्रशासन की और से कचरा प्रबंधन के लिए बनाए गए मौजूदा कार्यक्रम पर सकारात्मक असर होगा.
अनुभूति वेलफेयर फाउंडेशन के प्रवक्ता ने कहा कि परियोजना के माध्यम से हम प्लास्टिक कचरे के प्रबंधन को प्राथमिकता दे रहे हैं. हमारे सामूहिक प्रयासों का उद्देश्य पर्यटकों और व्यवसायों को पर्यावरण के लिए अनुकूल विकल्पों को अपनाने के लिए बढ़ावा देना और केदारनाथ में शून्य कचरा स्थिति हासिल करने के लिए लोगों को शिक्षित करना है.

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: