बुधवार, 16 जून 2021 | 06:28 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
श्री बदरीनाथ धाम के क्षेत्रपाल श्री घंटाकर्ण महाराज जी के सीमांत ग्राम माणा स्थित मंदिर के कपाट खुले          मुख्यमंत्री तीरथ रावत ने दिल्ली में कई केंद्रीय मंत्रियों से की भेंट          सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने सैन्यधाम के निर्माण में मदद तथा छावनी क्षेत्रों से संबंधित विभिन्न विषयों को लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से की भेंट          दिल्ली-रामनगर कार्बेट इको ट्रेन को मिली सैद्धान्तिक मंजूरी          मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल से की भेंट          राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने कुमाऊँ मंडल में कोरोना नियंत्रण से सम्बन्धित स्थिति की की समीक्षा          राम जन्मभूमि खरीद में नहीं हुआ कोई घोटाला          न्यूजीलैंड का मैच विराट के लिए बनेगा सबसे बड़ी चुनौती          मसूरी टनल के कार्य का अक्टूबर में उद्घाटन करेंगे केन्द्रीय मंत्री नितिन गड़करी          पौड़ी के रांसी स्टेडियम में बनेगा हाई एल्टीट्यूड ट्रेनिंग सेंटर          उत्तराखण्ड में क्राफ्ट टूरिज्म विलेज स्थापित कर इसे होम स्टे से जोङने पर दे जोर- स्मृति जुबिन ईरानी          चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्‍तरकाशी के लोगों के खुली चारधाम यात्रा         
होम | पर्यटन | मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने प्रदेशवासियों की दी राष्ट्रीय पर्यटन दिवस की शुभकामनाएं

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने प्रदेशवासियों की दी राष्ट्रीय पर्यटन दिवस की शुभकामनाएं


मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राष्ट्रीय पर्यटन दिवस के अवसर पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं।  उन्होंने कहा कि एडवेंचर और वेलनेस टूरिज्म के जरिए राज्य को एक वैश्विक पर्यटन स्थल बनाना चाहते हैं। पर्यटन राज्य की तरक्की और रोजगार दोनों का आधार है। कोरोना काल में यह प्रभावित हुआ है, अब हम कोविड -19 से उबर रहे हैं और पर्यटन शीघ्र ही पहले से बेहतर स्थिति में होगा।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि 13 डिस्ट्रिक्ट-13 न्यू डेस्टीनेशन से नए पर्यटन केन्द्रों का विकास हो रहा है। राज्य में 2200 से अधिक होम स्टे पंजीकृत किए जा चुके हैं। माउंटेनियरिंग, रिवर राफ्टिंग, ट्रैकिंग, कैम्पिंग, पैराग्लाईडिंग, माउंटेन बाईकिंग आदि गतिविधियों में काफी विस्तार हुआ है। लोकप्रिय ट्रैक रूट्स के निकट स्थित गांवों को ट्रैकिंग क्लस्टर के रूप में भी विकसित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि रोड़ कनेक्टिविटी एवं हवाई कनेक्टिविटी के विस्तार से निश्चित रूप से राज्य के पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और राज्य की आर्थिकी के लिए लाभकारी होगा।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: