सोमवार, 8 अगस्त 2022 | 06:49 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
प. बंगाल: अर्पिता मुखर्जी के फ्लैट से 28.90 करोड़ रुपये और 5 किलो से ज्यादा सोना बरामद          उत्तराखंड में कोरोना के 334 नए मामले, 2 लोगों की मौत          1 से 4 अगस्त तक भारत दौरे पर रहेंगे मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम सोलिह          बंगाल शिक्षा घोटाला: पार्थ चटर्जी को मंत्री पद से हटाया गया           संसद में स्मृति ईरानी और सोनिया गांधी के बीच नोकझोंक           गुजरात: जहरीली शराब कांड में एक्शन, SP का तबादला, 2 डिप्टी SP सस्पेंड           दिल्ली में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 3 गिरफ्तार          पार्थ चटर्जी के घर में चोरी, लोग समझे ED का छापा पड़ा है          कर्नाटक में प्रवीण हत्याकांड में पुलिस ने अब तक 21 लोगों की हिरासत में लिया         
होम | साहित्य | मुख्यमंत्री ने किया,ये वक्त की पुकार है, पुस्तक का विमोचन

मुख्यमंत्री ने किया,ये वक्त की पुकार है, पुस्तक का विमोचन


मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री आवास में डॉ राधेश्याम बिजल्वाण ‘रवॉल्टा’ द्वारा लिखित पुस्तक ‘ये वक्त की पुकार है’ का विमोचन किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि साहित्यकार समाज को दिशा देने का कार्य करते हैं। सूचना क्रान्ति के वर्तमान दौर में युवा पीढ़ी को अपनी परम्परा एवं लोक संस्कृति के प्रति जागरूक करने की भी आवश्यकता है। युवा पीढ़ी को वर्तमान समय मे बढ़ रही भौतिकवादी प्रवृत्ति के प्रति सजग करने के साथ ही देश के प्रति श्रद्धा व त्याग की भावना को विकसित कर अपनी समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को संजोयें रखने में यह पुस्तक निश्चित रूप से मददगार होगी।
मुख्यमंत्री ने डॉ.राधेश्याम बिजल्वाण ‘ रवॉल्टा’ के प्रयासों की सराहना करते हुए उम्मीद जताई कि उनके द्वारा लिखित पुस्तक समाज में नव चेतना के प्रसार के साथ ही सकारात्मक सोच को विकसित करने में भी सफल होगी। पुस्तक के लेखक डॉ.राधेश्याम बिजल्वाण ने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।
इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री अरविन्द पाण्डे,सांसद नरेश बंसल सहित अन्य लोग उपस्थित थे।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: