सोमवार, 30 मार्च 2020 | 12:13 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
कोरोना के चलते लखनऊ में भी लॉकडाउन, 23 मार्च तक सभी दफ्तर बंद          मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ ने अपने पद से इस्तीफा दिया          जनता कर्फ्यू.रविवार को नहीं चलेगी मेट्रो, DMRC ने जारी की एडवायजरी          उत्तराखंड में 65 साल के अधिक और 10 साल से कम आयु वाले बच्चों से 31 मार्च तक घर पर रहने की अपील           कोरोना वायरस: दिल्ली का चिड़ियाघर 31 मार्च तक बंद          विदेशों में 276 भारतीय कोरोना वायरस से संक्रमित          कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते माता वैष्णो देवी की यात्रा आज से बंद          उत्तराखंड सरकार बड़ा फैसला,पदोन्नति में आरक्षण किया खत्म,कर्मचारी लौटे काम पर          भारत में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 131 हुई,उत्तराखंड व्यक्ति में कोरोना की पुष्टि           आईपीएल पर कोरोना वायरस का साया,अब 15 अप्रैल से शुरू होंगे मैच          ज्योतिरादित्य सिंधिया को भाजपा ने मध्यप्रदेश से राज्यसभा उम्मीदवार घोषित किया          भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया           SBI ने बताया यस बैंक को बचाने का प्लान, कहा- पैसा बिल्कुल सेफ          कोरोना वायरस पर बोले पीएम मोदी- अफवाहों से बचें, जो भी करें अपने डॉक्टर की सलाह पर करें          निर्भया के दोषियों के खिलाफ नया डेथ वारंट जारी, 20 मार्च सुबह 5:30 बजे होगी फांसी          कोरोनवायरस के चलते दिल्ली के सभी सरकारी और निजी प्राइमरी स्कूल कक्षा 5 वीं तक 31 मार्च तक बंद           नशीले पदार्थों की तस्करी पर काबू करने की प्रणाली पर सहमति          भारत और अमेरिका के बीच डिफेंस डील पर मुहर, ट्रेड डील के लिए बातचीत पर सहमति          भारत बना रहा है नेवी के लिए नई हाईटेक क्रूज मिसाइल, जद में होगा पाकिस्‍तान          भारतीयों के स्विस खातों, काले धन के बारे में जानकारी देने से वित्त मंत्रालय ने किया इंकार          पीएम की कांग्रेस को खुली चुनौती,अगर साहस है तो ऐलान करें,पाकिस्तान के सभी नागरिकों को देंगे नागरिकता          नागरिकता संशोधन कानून पर जारी विरोध के बीच पीएम मोदी ने लोगों से बांटने वालों से दूर रहने की अपील की है          भारतीय संसद का ऐतिहासिक फैसला,सांसदों ने सर्वसम्मति से लिया फैसला,कैंटीन में मिलने वाली खाद्य सब्सिडी को छोड़ देंगे           60 साल की उम्र में सेवानिवृत्त करने पर फिलहाल सरकार का कोई विचार नहीं- जितेंद्र सिंह          मोदी सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली की अवैध कॉलोनियां होगी नियमित          पीओके से आए 5300 कश्मीरियों के लिए मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, मिलेंगे साढ़े पांच लाख रुपये          पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल किया कि उनका देश कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिशों में नाकाम रहा          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | धर्म-अध्यात्म | शुक्रवार को लगेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण,गर्भवती महिलाएं रखें अपना खास ध्यान

शुक्रवार को लगेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण,गर्भवती महिलाएं रखें अपना खास ध्यान


शुक्रवार यानि कल साल का पहला चंद्रग्रहण लगने वाला है। यह चंद्र ग्रहण 10 जनवरी रात 10:37 बजे से शुरू होकर अगले दिन 2:42 बजे सुबह तक चलेगा। इसका मतलब है कि साल का पहला चंद्र ग्रहण लगभग चार घंटे 5 मिनट तक रहने वाला है। हिंदू धर्म के अनुसार हर ग्रहण का व्यक्ति के जीवन पर अच्छा या बुरा प्रभाव जरूर पड़ता है। जिससे बचने के लिए ज्योतिष में कई नियम भी बताए गए हैं। लेकिन उपछाया चंद्रग्रहण को शास्त्रों में ग्रहण के रूप में नहीं देखा गया है। मांद्य चंद्र ग्रहण होने से इस ग्रहण का सूतक नहीं रहेगा। जिसकी वजह से ग्रहण काल में पूजा-पाठ आदि कर्म किए जा सकेंगे।

ज्योतिषीय मत के अनुसार इस चंद्र ग्रहण का कोई असर नहीं होगा। बता दें, 2020 से पहले ऐसा चंद्र ग्रहण 11 फरवरी 2017 को दिखा था। ग्रहण को लेकर गर्भवती महिलाओं के लिए कुछ नियम बताए जाते हैं। साथ ही इस ग्रहण का किन राशियों पर क्या प्रभाव पड़ेगा। यह हम आपको बताते है।

चंद्र ग्रहण 2020 का हर राशि पर पड़ेगा ऐसा प्रभाव-
मेष राशि पर असर-
चंद्र ग्रहण 2020 मेष राशि के जातकों के लिए मिलाजुला असर लेकर आएगा। इस ग्रहण की वजह से मेष राशि के जातकों के पराक्रम में वृद्धि होगी लेकिन परिवार में किसी सदस्‍य को कोई कष्‍ट हो सकता है।

वृषभ राशि -
वृषभ राशि के जातकों के लिए चंद्र ग्रहण 2020 धन हानि के संकेत लेकर आया है। इस दौरान वृषभ राशि के जातकों को अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना चाहिए वरना उनका किसी के साथ लड़ाई-झगड़ा हो सकता है। 

मिथुन राशि-
चंद्र ग्रहण का सबसे ज्यादा प्रभाव मिथुन राशि पर ही देखने को मिलेगा। मिथुन राशि के लिए चंद्र ग्रहण अच्छा प्रभाव लेकर नहीं आया है। इस राशि के जातकों को इस ग्रहण की वजह से मानसिक कष्‍ट या परिवार में कलह झेलनी पड़ सकती है। 

कर्क राशि -
कर्क राशि के जातकों के लिए चंद्र ग्रहण बेहद प्रभावशाली रहने वाला है। ग्रहण की वजह से आपके खर्च में बढ़ोत्तरी हो सकती है या फिर आपको बिना किसी कारण के भी यात्रा पर जाना पड़ सकता है। 

सिंह राशि-
यह चंद्र ग्रहण सिंह राशि के जातकों को अप्रत्‍याशित लाभ देने के साथ उनकी आय में भी वृद्धि कर सकता है। इस राशइ के जातकों के लिए धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं।

कन्या राशि -
कन्‍या राशि के लिए ग्रहण का असर मिला जुला रहने वाला है। इस राशि के जातकों को इस समय अपनी सेहत पर विशेष ध्‍यान देने की जरूरत है। 

तुला राशि-
इस राशि के जातकों के लिए यह ग्रहण कुछ अच्छा समय लेकर नहीं आ रहा है। इस दौरान आपके काम बिगड़ सकते हैं। बात अगर आपके पराक्रम की करें तो वह सामान्‍य रहेगा लेकिन परिवार में व्‍यर्थ का वाद-विवाद हो सकता है।  

वृश्चिक राशि-
इस राशि के लिए यह चंद्र ग्रहण किसी दुर्घटना और धन हानि के योग बना रहा है। ऐसे में इस राशि के लोगों को इस दौरान विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है। 

धनु राशि -
चंद्र ग्रहण का असर इस राशि के जातकों के रिश्‍तों पर पड़ता नजर आ रहा है। परिवार या सहयोगी कारोबारी से आपका विवाद हो सकता है।

मकर राशि -
मकर राशि के लिए यह ग्रहण अच्‍छा योग लेकर आया है। इस दौरान आपके शत्रुओं से आपको निजात मिलेगी। लेकिन आपको अपनी सेहत का ध्यान रखना होगा। खासकर पानी से होने वाले रोगों को लेकर सतर्कता बरतें। 

कुंभ राशि-
कुंभ राशि के लोगों के लिए चंद्र ग्रहण शुभ फलदायक है। प्रेम संबंधों के लिए भी समय ठीक रहेगा। हालांकि परिवार में किसी का स्‍वास्‍थ्‍य खराब हो सकता है, ध्यान रखें। 

मीन राशि-
इस राशि के लिए यह ग्रहण मिले जुले परिणाम लेकर आया है। इस दौरान एक तरफ आपका स्‍वास्‍थ्‍य खराब रहेगा तो दूसरी तरफ आपके लिए व्यापार में सफलता के योग बनते नजर आ रहे हैं। इस राशि के जातक इस दौरान भूमि या प्रॉपर्टी बेचते समय सतर्कता बरतें। 

गर्भवती महिलाएं रखें अपना खास ध्यान

आमतौर पर ग्रहण में बने हुए खाने को न खाने की सलाह दी जाती है. माना जाता है कि चंद्र ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को निराहार रहना चाहिए. इस दौरान ग्रहण की हानिकारक किरणों से भोजन प्रदूषित कर सकती है. इससे गर्भवती महिला और शिशु के स्वास्थ्य पर असर पड़ने की संभावना रहती है. अगर घर पर खाना बना हो तो उसमें तुरंत तुलसी के पत्ते डाल दें.

कहा जाता है कि ग्रहण के दौरान गर्भवती स्त्रियों को नुकीली चीजों जैसे चाकू, कैंची, सूई आदि का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए. माना जाता है कि ऐसा न करने पर होने वाले शिशु के किसी भी अंग को नुकसान पहुंच सकता है.

 कहा जाता है कि ग्रहण के बाद गर्भवती महिला को जरूर नहाना चाहिए. नहीं तो शिशु को त्वचा संबधी रोग लग हो सकते हैं. ग्रहण के नकारात्मक प्रभाव से बचने के लिए गर्भवती महिला को नहाना जरूरी होता है.



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: