बुधवार, 23 जून 2021 | 10:52 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
सीएम रावत ने रेल विकास निगम के अधिकारियों से ली ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाईन की जानकारी          हुंडई मोटर इंडिया फाउंडेशन ने उत्तराखंड को प्रदान किए वेंटिलेटर,ऑक्सीमीटर एवं सैनिटाइजर सहित अन्य सामान          सीएम ने दिखाई पांच वातानुकूलित इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी          इसरो की सेटेलाइट से बच्चें करेंगे ऑन लाइन पढ़ाई          पंजाब चुनावों से पहले कांग्रेस में छिड़ी जंग          उत्तराखंड में कोरोना कर्फ्यू के लिए दिशा-निर्देश जारी          उत्तराखंड में जल्द दूर होंगी सेवानिवृत्त राजकीय पेंशन संबंधी विसंगतियां          सचिन तेंदुलकर बने सदी के सबसे तेज बल्लेबाज          अमेरिका के राष्ट्रपति को पीछे छोड़ नंबर वन बने पीएम मोदी         
होम | सेहत | कोरोना से बच्चों को बचाने के लिए केंद्र सरकार ने जारी की गाइड लाइंस

कोरोना से बच्चों को बचाने के लिए केंद्र सरकार ने जारी की गाइड लाइंस


देश में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। जिसके कारण अब तक कई सारे लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। इसके साथ ही कोरोना की तीसरी लहर ने लोगों के अंदर और भी ज्यादा डर पैदा कर दिया है। इन सभी समस्याओं को देखते हुए केंद्र सरकार की तरफ से गाइडलाइंस जारी की गई हैं।
गाइडलाइन में बच्चों की देखभाल के लिए राज्य सरकार से लेकर जिला और पंचायत स्तर तक के अधिकारियों को जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं। गाइडलाइन में राज्य सरकार से कहा गया है कि वह सर्वें या बच्चों तक पहुंच कर कोविड-19 के कारण परेशान हुए बच्चों की सूची बनाएं।
राज्य प्रशासन से केंद्र सरकार ने कहा है कि ऐसे बच्चों के लिए प्रोफाइल सहित एक ऐसा डाटाबेस तैयार किया जाए जिसमें बच्चों के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से हो।इसमें यह भी होना चाहिए कि बच्चे की खास जरूरत क्या है और उन्हें किस चीज की आवश्यकता है।यह गाइडलाइन केंद्रीय महिला एवं बाल विकास सचिव राम मोहन मिश्रा की ओर से सभी राज्य सरकारों को भेजी गई है।
राज्य सरकारों से कहा गया है कि इन बच्चों का डाटाबेस तैयार करते हुए सभी सूचनाओं को सुरक्षित और गोपनीय रखी जाए। गाइडलाइन के मुताबिक राज्य सरकारों से कहा गया है कि बच्चों की पहचान को जेजे एक्ट 2015 के तहत गोपनीय रखी जाए। राज्य सरकारों से कहा गया है कि प्रत्येक बच्चों के बारे में पूरी जानकारी हासिल कर लेने के बाद इस डाटा को केंद्र सरकार के ट्रैक चाइल्ड पोर्टल पर अपलोड कर दिया जाए।
इन सभी गाइडलाइंस को जारी करके लोगों को इस नई तीसरी लहर से बचाने की कोशिश की जा रही है। ताकि आने वाली मुसीबत से लोगों को बचाया जा सके।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: