मंगलवार, 16 जुलाई 2019 | 03:57 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
दिल्ली-एनसीआर में हुई झमाझम बारिश, गर्मी और उमस से मिली राहत          हिमाचल प्रदेश के सोलन में इमारत गिरने की वजह से अब तक सेना के 6 जवानों सहित सात लोगों की मौत           भारतीय क्रिकेट टीम के अंदर सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक टीम दो खेमों में बंट गई है          पीएम नरेंद्र मोदी सितंबर में अमेरिका जाएंगे, जहां भारतीय समुदाय के लोगों से उनकी मुलाकात हो सकती है। इस दौरान दुनिया के कई अन्‍य देशों के नेताओं से भी मुलाकात की संभावना है          अयोध्या केस मध्यस्थता पैनल 18 जुलाई को पेश करे रिपोर्ट, सुप्रीम कोर्ट का निर्देश          भाजपा को 2016-18 के बीच 900 करोड़ रू से ज्यादा चंदा मिला, एडीआर की रिपोर्ट में आया सामने          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार          बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव ने किया तेज सेना का गठन           भ्रष्ट अफसरों को जबरन वीआरएस दिया जाए, ऐसे लोग नहीं चाहिए-योगी आदित्यनाथ         
होम | उत्तराखंड | चमोली में पिंडर नदी में गिरी एसएसबी की कार, डिप्टी कमांडेंट लापता; चालक घायल

चमोली में पिंडर नदी में गिरी एसएसबी की कार, डिप्टी कमांडेंट लापता; चालक घायल


 सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) का जिप्सी के पिंडर नदी में गिरने के बाद उसमें सवार डिप्टी कमांडेंट का कुछ पता नहीं चल पा रहा है, जबकि चालक को लोगों ने नदी से निकालकर बचा लिया। उसे कर्णप्रयाग स्थित सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चालक मूल रूप से अलीगढ़ का निवासी है। 

चमोली जिले में कर्णप्रयाग-ग्वालदम मार्ग नलगांव के नजदीक आमसौड़ में मंगलवार दोपहर यह हादसा हुआ। एसएसबी की ग्यारहवीं बटालियन डीडीहाट चंपावत में बतौर डिप्टी कमांडेंट तैनात अशोक कुमार कुछ दिन पहले श्रीनगर स्थित प्रशिक्षण केंद्र में कमांडो ट्रेनिंग देने के लिए आए हुए थे। मंगलवार को वापस डीडीहाट लौट रहे थे। कर्णप्रयाग से लगभग 20 किलोमीटर आगे आमसौड़ के पास उनका जिप्सी वाहन अनियंत्रित होकर पिंडर नदी में समा गया। जिस जगह दुर्घटना हुई वहां पानी का बहाव काफी तेज है और गहराई भी ज्यादा है।

तेज बहाव में चालक छत्रपाल सिंह कुछ दूरी पर पत्थरों के बीच अटक गया। उसे आसपास के लोगों ने बचा लिया, जबकि डिप्टी कमांडेंट और वाहन का कुछ पता नहीं चल पाया। राज्य आपदा प्रतिवादन बल (एसडीआएफ) की टीम ने डिप्टी कमांडेंट की तलाश में खोज-बचाव अभियान चलाया, लेकिन देर शाम तक कुछ पता नहीं चल पाया था। श्रीनगर से एसएसबी का कमांडो दस्ते भी घटनास्थल पहुंचे हैं। डिप्टी कमांडेंट मूल रूप से राजस्थान में जयपुर के रहने वाले हैं। 

इधर, बचाए गए चालक छत्रपाल सिंह को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कर्णप्रयाग में भर्ती कराया गया है। वह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले के मोतनपुर-नारायणपुर का निवासी है। चमोली के पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान ने बताया कि डिप्टी कमाडेंट की खोजबीन की जा रही है।  



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: